... फॉलोअप पत्रवार्ता : जिला अस्पताल में करोड़ों के फर्जीवाड़े पर इसी हफ्ते जांच टीम "कलेक्टर को सौंपेगी जांच रिपोर्ट" संसदीय सचिव यूडी मिंज ने तोड़ी चुप्पी और कथित भ्रष्टाचार पर दिया सीधा जवाब,कही ये बात....पूरी खबर सिर्फ पत्रवार्ता पर।

आपके पास हो कोई खबर तो भेजें 9424187187 पर

फॉलोअप पत्रवार्ता : जिला अस्पताल में करोड़ों के फर्जीवाड़े पर इसी हफ्ते जांच टीम "कलेक्टर को सौंपेगी जांच रिपोर्ट" संसदीय सचिव यूडी मिंज ने तोड़ी चुप्पी और कथित भ्रष्टाचार पर दिया सीधा जवाब,कही ये बात....पूरी खबर सिर्फ पत्रवार्ता पर।

 

जशपुर,टीम पत्रवार्ता,16 जून 2021

BY योगेश थवाईत 

जिला चिकित्सालय सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक जशपुर के कार्यालय में कथित करोड़ों के फर्जीवाड़े पर जांच टीम अब अपनी रिपोर्ट तैयार करने में लगी है।लगभग 15 दिनों की गहन जांच के बाद अब जांच टीम कलेक्टर को रिपोर्ट सौंपने वाली है।अब देखना होगा कि 5 सदस्यीय जांच टीम की रिपोर्ट में कौन कौन सी अनियमितता सामने आती है।

उल्लेखनीय है कि लगातार जांच को लेकर विपक्षी दलों ने सवाल उठाए हैं।

ऐसे में संसदीय सचिव यूडी मिंज ने सामने आकर इस मुद्दे पर बेबाकी से अपनी बात कही है।उन्होंने कहा कि जहां काम होते हैं वहां विवाद होता ही है।सवाल उठाने वाले सवाल उठाते रहेंगे।उन्होंने बताया कि प्रदेश की भूपेश सरकार में प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत के नेतृत्व में विकास के नए आयाम गढ़े जा रहे हैं।इससे विपक्ष परेशान है।

 देखिये वीडियो संसदीय सचिव ने क्या कहा

यहां पदस्थ आरएमओ अनुरंजन टोप्पो को पहले ही कलेक्टर ने हटा दिया है वहीं सिविल सर्जन एफ खाखा पर अब तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है।जिसे लेकर विपक्षी लगातार सवाल उठा रहे हैं।वहीं जिन सामग्रियों की खरीदी के बाद लगभग 1 करोड़ से ऊपर का भुगतान का प्रयास किया जा रहा था उसमें जांच टीम ने पहले ही पूरी जांच कर ली है।इसके बाद वित्तीय वर्ष 2019-20 व 2020-21 के रिकार्ड खंगालने में जांच टीम को खासा समय लगा जिसमें लगभग 5 करोड़ से ऊपर की राशि का भुगतान विभिन्न फर्मों को किया जा चुका है।

सूत्रों के मुताबिक प्रारंभिक जाँच में ही कई गड़बड़ियाँ सामने आई है।मामले में जांच टीम ने कुछ दस्तावेजों को अपने अधिकार क्षेत्र में रखा है  जो गोपनीय हैं और बारीकी से मामले की जाँच की जा रही है।

फिलहाल जाँच टीम पूरी गंभीरता से जाँच कर रही है।पुष्ट सूत्रों की मानें तो इस हफ्ते जांच टीम अपनी रिपोर्ट कलेक्टर को सौंप सकती है।हांलाकि यह भी बातें सामने आ रही हैं कि क्रय समिति के द्वारा खरीदी का हवाला देकर बचने का प्रयास भी किया जा रहा है।अब देखना होगा कि जांच टीम पर उठे सवालों से जांच टीम अपनी जांच को कितनी निष्पक्षता से सामने लाती है।

==================================

लगातार पत्रवार्ता ने भ्रष्टाचार के मुद्दे को प्रमुखता से उठाया 

"सरोकार समस्या से समाधान तक "

==============================

इससे जुडी ख़बरों के लिए निचे लिंक पर क्लिक करें 

Link 1 - कहाँ हैं स्वास्थ्य मंत्री..? " जशपुर स्वास्थ्य विभाग में "करोड़ों" का "फर्जीवाडा"..?

Link 2 : करोड़ों" के "फर्जीवाड़े" के पीछे कौन..?

Link 3 : "सांसद गोमती साय" ने "स्वास्थ्य मंत्री" को लिया आड़े हाथों,दोषियों पर करें कार्यवाही

Link 4 : ऐतिहासिक भ्रष्टाचार" पर "गणेश राम भगत " ने दी आन्दोलन की चेतावनी

Link 5 : "युध्दवीर सिंह जूदेव "की तरकश से निकला "तीर"

Link 6 : "स्वास्थ्य मंत्री" " TS सिंहदेव ने कहा होगी मामले की जाँच

Link 7 : सिविल सर्जन व आरएमओ पर "राजपरिवार के करीबी बीजेपी नेता" ने लगाया गंभीर आरोप

Link 8 : "युध्दवीर सिंह जूदेव" ने निकाली "भ्रष्ट अधिकारियों" की कुंडली,"5 करोड़ " से अधिक...का

Link 9 : भ्रष्टाचार" को लेकर "जांच टीम" पर टिकी पूरे जशपुर की नजर

Link 10 : सांसद गोमती साय" ने खोला मोर्चा,सत्तादल के विधायकों से सीधा सवाल

Link 11 : खबर का असर : हटाए गए आरएमओ डॉ अनुरंजन टोप्पो

Link 12 : अब 5 सदस्यीय टीम" करेगी, "करोड़ों" के खरीदी की जांच

Link 13 : "CS" को अब तक क्यों नहीं हटाया गया - पूर्व मंत्री

Link 14 : युध्दवीर के फेसबुक" पोस्ट से सामने आई दोषियों को बचाने की राजनीति

Link 15 : जाँच टीम खंगाल रही रिकार्ड,श्याम सर्जिकल को 1 करोड़ से अधिक का भुगतान

Link 16 : जाँच अधूरी : "कहीं मामला ठन्डे बस्ते" में तो नहीं ...बड़ा सवाल ?

Link 17 : भ्रष्टाचार के विरोध में "जनजातीय सुरक्षा मंच" करेगी धरना प्रदर्शन

Link 18 : कलेक्टर महादेव कावरे ने कहा भण्डार क्रय नियम का गंभीरता से पालन करें

Link 19 : सीएस भी मामले को सलटाने खुलकर कर रही सहयोग

Post a Comment

0 Comments