... पत्रवार्ता एक्सक्लूसिव-अधिकारीयों को बंधक बनाये जाने के मामले में एक गिरफ़्तार,लगभग दो दर्जन पत्थरगढ़ी समर्थकों पर मामला दर्ज

पत्रवार्ता एक्सक्लूसिव-अधिकारीयों को बंधक बनाये जाने के मामले में एक गिरफ़्तार,लगभग दो दर्जन पत्थरगढ़ी समर्थकों पर मामला दर्ज


पत्थलगढ़ी मामला- 

जशपुर (पत्रवार्ता एक्सक्लूसिव) "भूल गए संविधान,अधिकारियों को बना बैठे बंधक।" मामला है बगीचा  के बुटंगा का जहां प्रशासन का रास्ता रोके जाने,बलवा.भड़काऊ भाषण,शासकीय अधिकारियों को भय में डालने समेत शासकीय कार्य में बाधा जैसे अपराध  में लगभग दो दर्जन पत्थरगढ़ी समर्थकों पर तीन मामले बगीचा थाने में दर्ज किये गए हैं।बंधक बनाये जाने के दौरान लोगों को उकसाने व नेतृत्व करने वाले फुलजेंस एक्का को बगीचा पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
गिरफ्तार आरोपी 

क्या था मामला
पिछले 28 अप्रैल को बगीचा के बछरांव से कलिया तक बीजेपी की सद्भावना रैली के दौरान पत्थरगढ़ी तोड़े जाने से आक्रोशित पत्थरगढ़ी समर्थकों ने बुटंगा गांव में पुलिस व प्रशासनिक अधिकारीयों को लगभग 4 घंटों तक बंधक बना लिया थाजहाँ सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण प्रशासन के लोगों को घेरे हुए थे और किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फ़िराक में थे

ओएनजीसी में अधिकारी था पत्थलगढ़ी का सूत्रधार (यहाँ क्लिक करें,पढ़ें पूरी खबर)

जिसे पुलिस के आला अधिकारी समझ चुके थे और सबसे पहले वहां से बाहर निकलने के कवायद में जुट गए थे।ग्रामीण इतने आक्रोशित थे कि रात ढलने के साथ ही उनकी हैवानियत बढती ही जा रही थी।पुलिस प्रशासन समेत सरकारी अफसरों को मौके पर संविधान बता रहे थे

सवाल पूछने वाले ग्रामीणों में पास के गांव शरबकोम्बो का फुलजेंस एक्का(55)पिता पौलुस एक्का शामिल था जिसने सवाल किया था हमारे गाँव में पुलिस क्यों आई।बगीचा पुलिस ने उक्त आरोपी समेत लगभग दो दर्जन लोगों पर तीन मामलों में अपराध पंजीबद्ध किया है वहीँ आरोपी फुलजेंस को गिरफ्तार कर पुलिस ने न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है
==========================

रिटायर्ड आईएएस समेत दिल्ली का एक अधिकारी शामिल,जानिए क्या था मास्टर प्लान

यहाँ अन्य इससे जुडी खबर ...क्लिक करें








Post a comment

0 Comments