... BIG BREAKING : कलेक्टर महादेव कावरे ने स्थगित की "टांगरगाँव स्टील प्लांट की जनसुनवाई" ,ग्रामीणों का विरोध प्रदर्शन जारी, 4 अगस्त को नहीं होगी जनसुनवाई,अब ग्रामीण इस बात पर अड़े ....

आपके पास हो कोई खबर तो भेजें 9424187187 पर

BIG BREAKING : कलेक्टर महादेव कावरे ने स्थगित की "टांगरगाँव स्टील प्लांट की जनसुनवाई" ,ग्रामीणों का विरोध प्रदर्शन जारी, 4 अगस्त को नहीं होगी जनसुनवाई,अब ग्रामीण इस बात पर अड़े ....

 


जशपुर,टीम पत्रवार्ता,30 जुलाई 2021

BY योगेश थवाईत 

लगातार स्टील प्लांट के बढ़ते विरोध के बीच जशपुर कलेक्टर महादेव कावरे ने covid19 व वर्षा को देखते हुए मां कुदरगढ़ी स्टील प्लांट की जनसुनवाई स्थगित कर दी है।आपको बता दें कि आगामी 4 अगस्त को कांसाबेल के टांगरगाँव में यह जनसुनवाई होने वाली थी वहीँ  2 अगस्त को हाईकोर्ट की सुनवाई है।इसके बाद भी ग्रामीण विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और अपनी मांगों को लेकर अड़े हुए हैं

उल्लेखनीय है कि गाँव में प्लांट की स्थापना व जनसुनवाई को लेकर माहौल खासा गर्म हो चुका था।खुद जिला कलेक्टर,एसपी व एसडीएम ने मौके पर जाकर ग्रामीणों से बात की जिसके बाद ग्रामीणों ने अधिकारियों  के समक्ष जनसुनवाई को लेकर आपत्ति भी दर्ज कराई।

यहाँ ग्रामीणों ने कई मुद्दों पर प्रशासन से बात करके उन्हें समझाने का प्रयास किया था कि जब वे प्लांट नहीं चाहते तो जनसुनवाई क्यों ...? हाँलाकि ग्रामीण अपनी बात पर अड़े रहे और विरोध करते रहे।अंततः कलेक्टर ने कोविड 19 व बरसात का हवाला देते हुए आगामी जनसुनवाई को स्थगित कर दिया है।

ग्रामीणों ने जिला कलेक्टर के इस निर्णय का स्वागत कर प्रशासन का धन्यवाद किया है।ग्रामीणों द्वारा किये जा रहे विरोध प्रदर्शन के बाद ग्रामीणों के पक्ष में इस खबर से ग्रामीण काफी खुश हैं।वहीँ अब कुशल रणनीति के साथ स्टील प्लांट के विरुद्ध व्यापक योजना बनाकर कार्य करने की बात कह रहे हैं।

टांगरगाँव स्टील प्लांट का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने बताया कि उनका आन्दोलन जारी रहेगा,उनकी मांग यह है कि किसी भी हाल में यहाँ स्टील प्लांट की स्थापना नहीं होनी चाहिए।जब तक जमीन के खरीददारों का नाम नहीं हटेगा वे आन्दोलन करते रहेंगे।हांलाकि कम्पनी के द्वारा जमीन खरीदी गई है और विधि अनुसार नाम उन्हीं का है।ऐसे में ग्रामीणों की मांग को लेकर प्रशासन के सामने फिर से मुश्किलें खड़ी हो रही हैं

Post a Comment

1 Comments

Anonymous said…
स्टील कंपनी वाले झूठ बोलकर प्रस्ताव पास किए हैं इसमें एसडीएम और कलेक्ट भी सामिल हैं
कम्पनी का कहना हैं :
1 . यहां बंजर भूमि है । जबकि यहां चारो ओर खेती की जाती हैं
2. सांप और वन्य जीव जंतु नहीं पाए जाते हैं । जबकि ये सब पाए जाते हैं
3. जंगल में किसी भी प्रकार की औषधि नहीं पाए जाती । ये भी पाए जाते हैं
4. जिस स्थान पर कंपनी लगने वाला है वहा से 5 km दूर हैं नदी । जो कि नदी 300 मीटर की दूरी में स्थित हैं
6. आस पास में कोई देव स्थल या मंदिर नहीं हैं ये सब कम्पनी के प्रस्ताव में हैं
जहा स्टील प्लांट बनने वाला हैं वहां गांव बसा हुआ है और
बिता कल 29/7/2021 को कलेक्ट और एसडीएम सुखबासु पारा गांव में आए थे तब सभी ग्रामीण वासी यही पूछे तो कलेक्ट और एसडीएम बिना कुछ बोले चले गए इसका विरोध 10 पंचायत के गांव वाले कर रहे हैं 😁