... BREAKING पत्रवार्ता : "जशपुर" में "अजीबोगरीब" "भूत" का "कहर"..?"भूत"की शिकायत लेकर पीड़ित पंहुचा थाने,परिवार ठिकाना बदल कर दर दर की ठोकर खाने को मजबूर।

Recents in Beach


BREAKING पत्रवार्ता : "जशपुर" में "अजीबोगरीब" "भूत" का "कहर"..?"भूत"की शिकायत लेकर पीड़ित पंहुचा थाने,परिवार ठिकाना बदल कर दर दर की ठोकर खाने को मजबूर।





योगेश थवाईत

जशपुर (पत्रवार्ता ) जशपुर में भूत के खिलाफ थाने में शिकायत का अजीबोगरीब मामला सामने आया है।शिकायतकर्ता ने भूत के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

यूँ तो आपने किस्सों कहानियों में भूतों के बारे में सुना होगा।यहाँ हम आपको ऐसी कहानी बताने जा रहे हैं जिसे पढ़कर आपको यकीन नहीं होगा पर यह सच है ! 

जशपुर जिले में एक परिवार "भूत की पत्थरबाजी" से इस कदर परेशान है कि उसने पिछले एक साल में आधा दर्जन से अधिक ठिकाना बदल लिया इसके बावजूद उनके घर पर पत्थरबाजी कम नहीं हुई।पीड़ित परिवार ने बगीचा थाने में लिखित शिकायत देकर  "भूत" के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

मामला है जशपुर जिले के बगीचा थाना इलाके का जहां पंडरापाठ चौकी के अंतर्गत सुलेसा के भितवाही गांव में रामकृपाल यादव अपने माता पिता व दो बहनों के साथ रहता है।पिछले एक साल से वह अजीबोगरीब पत्थरबाजी से परेशान है।अचानक उसके घर में पत्थर बरसने लगता है कभी घर के सदस्य उससे चोटिल हो जाते हैं तो कभी पत्थर से उनपर जानलेवा हमला भी होता है।खास बात यह कि पत्थर मारने वाला न तो दिखाई देता है न ही पकड़ में आता है।यहाँ तक की रहने का ठिकाना बदलने के बाद भी पत्थरबाज भूत उनका पीछा नहीं छोड़ रहा।

बगीचा पुलिस को दिए गए शिकायत आवेदन के अनुसार रामकृपाल यादव के पूरे परिवार में पत्थरबाजी हो रही है।जिसमें उनके परिवार के लोग घायल भी हो चुके हैं।पिछले एक साल से वे अज्ञात तत्वों की पत्थरबाजी से परेशान हैं।

रामकृपाल ने बताया कि इस अज्ञात पत्थरबाजी से परेशान होकर वे कुछ दिन के लिए शंकरगढ़ के खरकोना अपनी दीदी के पास चले गए वहां भी यह समस्या बनी रही।इसके बाद वे सभी बगीचा के झांपीदरहा आ गए वहां भी पत्थर गिरने का सिलसिला कम नहीं हुआ।यहां से परेशान होकर वे बगीचा के गम्हरिया में एक पंडा के यहां रहने लगे वहां भी पत्थर के हमले से उनका पूरा परिवार परेशान है।

इतना ही नहीं हद तो तब हो गई जब आश्रय देने वाले पंडा के परिवार के लोग भी उस पत्थरबाजी का शिकार हो गए और चोटिल हुए।



शिकायत आवेदन में बताया गया है कि उनके सामने भूखों मरने की नौबत आ गई है।दर दर की ठोकर खाकर वे जिंदगी से परेशान हो गए हैं।पीड़ित परिवार के रामकृपाल ने इस अज्ञात पत्थरबाजी के हमले से सुरक्षा की मांग करते हुए 'भूत" पर कार्रवाई की मांग करते हुए बगीचा पुलिस से गुहार लगाईं है।

"अज्ञात तत्वों की पत्थरबाजी से परेशान होकर युवक ने शिकायत आवेदन दिया है।मामले में जांच कर दोषियों शरारती तत्वों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।"

विकास शुक्ला,थाना प्रभारी,बग़ीचा।

Post a Comment

0 Comments