... बड़ी खबर: गृह मंत्री अमित शाह की दो टूक "लोकतंत्र की विचारधारा के खिलाफ" काम करने वाले माओवादियों को जड़ से उखाड़ना होगा ,CM भूपेश बघेल भी बैठक में रहे शामिल "आतंकवाद" के बाद अब "नक्सलवाद" पर केंद्र का कड़ा प्रहार..बनी ठोस रणनीति

Recents in Beach


बड़ी खबर: गृह मंत्री अमित शाह की दो टूक "लोकतंत्र की विचारधारा के खिलाफ" काम करने वाले माओवादियों को जड़ से उखाड़ना होगा ,CM भूपेश बघेल भी बैठक में रहे शामिल "आतंकवाद" के बाद अब "नक्सलवाद" पर केंद्र का कड़ा प्रहार..बनी ठोस रणनीति




केंद्र सरकार व NAXAL प्रभावित राज्यों के बीच 
लेफ्ट विंग चरमपंथियों के खिलाफ संयुक्त अभियान 

नई दिल्ली,26 अगस्त 2019,टीम पत्रवार्ता

केंद्र सरकार और नक्सल प्रभावित राज्यों के बीच सोमवार को लेफ्ट विंग चरमपंथियों के खिलाफ संयुक्त अभियान चलाने को लेकर बातचीत हुई। इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि लोकतंत्र की विचारधारा के खिलाफ काम करने वाले माओवादियों को जड़ से उखाड़ना होगा।


इस बैठक में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल, बिहार के सीएम नीतीश कुमार, ओडिसा सीएम नवीन पट्नायक, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, एमपी के सीएम कमलनाथ, झारखंड के सीएम रघुबरदास, आंध्र प्रदेश के सीएम येदियुरप्पा मौजूद थे। हालांकि बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बैठक में हिस्सा नहीं लिया। बैठक में नक्सलियों के खिलाफ चल रहे ऑपरेशनों की भी चर्चा हुई।


बैठक के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि नक्सल प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बेहद अच्छी मीटिंग हुई। नक्सली लोकतंत्र के विचार के पूरी तरह खिलाफ हैं। उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नक्सलवाद को खत्म किया जाएगा। 

इस दौरान छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने केंद्र से नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाने के लिए अतिरिक्त फंड की मांग की। 


छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भुपेश बघेल ने कहा कि विकास कार्यों को आगे बढ़ाकर नक्सलवाद को खत्म करेंगे। वहीं बिहार के सीएम ने कहा कि नक्सलवाद को खत्म करना राज्य सरकार और केंद्र की संयुक्त जिम्मेदारी है।



यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में नक्सलवाद की गतिविधियां पूरी तरह नियंत्रण में हैं, उन इलाकों में विकास कार्यों को भी आगे बढ़ाया जा रहा है। 


झारखंड के सीएम रघुबरदास ने कहा कि कई बड़े नक्सली सरेंडर करने के रास्ते पर हैं। उन्हें मुख्यधारा में लाने की कोशिश की जाएगी। 

Post a Comment

0 Comments