... जो शक्ति नारी में है वह किसी में नहीं-रायमुनी

जो शक्ति नारी में है वह किसी में नहीं-रायमुनी


अंतराष्ट्रीय महिला दिवस पर बेटी जिन्दाबाद कार्यक्रम का आयोजन

जशपुर(पत्रवार्ता) राज्य महिला आयोग की प्रतिनिधी श्रीमती रायमुनी भगत ने बेटी जिंदाबाद कार्यक्रम में अपने उद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि कहा कि जो शक्ति नारी में है वह किसी में नहीं है।भारतीय संविधान ने स्त्री और पुरूष को बराबर का अधिकार एवं कर्तव्य दिया है। बावजूद इसके महिला हर क्षेत्र में अग्रणी है जो महिला वर्ग के लिए सम्मान की बात है।

उल्लेखनीय है की जशपुर के वशिष्ठ कम्युनिटी हाल में बेटी जिंदाबाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमे केन्द्रीय मंत्री विष्णुदेव साय समेत जिले के आला दिग्गजों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।इस अवसर पर महिलाओं व बालिकाओं को पुरस्कार देकर सम्मानित भी किया गया। 
केन्द्रीय इस्पात एवं राज्य खनन मंत्री विष्णु देव साय ने सभी को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं दी।उन्होंने कहा कि आज जशपुर की बेटियां महामहिम राष्ट्रपति जी से दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में पुरस्कृत होकर सम्मान पा रही है जो जिले के लिए गर्व का विषय है । उन्होंनें कहा कि भारत में नारी हमेशा पूजनीय रही है।यहां ज्ञान की देवी मां सरस्वती, शक्ति की देवी मां दुर्गा और धन की देवी मां लक्ष्मी को माना जाता है।श्री साय ने कहा कि हमारे देश में नारियों का हमेशा सम्मान हुआ है और आगे भी होता रहेगा।उन्होंने कहा जशपुर की बेटियों में बहुत प्रतिभा है। उन्होंने छत्तीसगढ़ की बेटियों की तारीफ करते हुए कहा कि आज यहां की बेटियां अपने जिले से नहीं बल्कि राज्य से बाहर जाकर अपनी प्रतिभा दिखा रही है।
खादी एवं ग्रामोद्योगबोर्ड के अध्यक्ष श्री कृष्ण कुमार राय ने महिला दिवस में उपस्थित सभी महिलाओं को बधाई देते हुए कहा कि आज सबसे अधिक अच्छा कार्य उन क्षेत्रों में देखने को मिलता है जहां की सरपंच एक महिला होती है।उन्होंने कहा कि बेटियों में किसी भी कार्य को करने और उसे अच्छे तरीके से सम्भालने के गुण होते हैं। जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती गोमती साय ने कहा कि बेटियां आज शिक्षा के क्षेत्र में ही नहीं बल्कि हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही है। उन्होंने इस अवसर पर बेटियों को इसी तरह हमेशा आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। 
जिले की महिला कलेक्टर डॉ.प्रियंका शुक्ला ने एक पंक्ति यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते, रमन्ते तत्र देवता के साथ संबोधित करते हुए कहा कि मुझे गर्व है कि इस जिले में उक्त बातों को यहाँ की महिलाओं ने सार्थक किया है।यहां 1000 लड़को पर 1005 लड़कियों का लिंगानुपात महिलाओं के प्रति सुरक्षा की भावना को और भी मजबूत करता है।


"कलेक्टर डॉ.प्रियंका शुक्ला ने बताया कि जशपुर अब "यशपुर" बन रहा है,न केवल यहाँ की बेटियां अपने जिले में यश फैला रही हैं बल्कि पुरे देश में जशपुर का गौरव स्थापित करने में महति भूमिका अदा कर रही हैं,यहाँ की महिलाओं को दिल्ली में सम्मान मिलना अपने आप में अभूतपूर्व है।"

गौरतलब है की बेटी जिन्दाबाद कार्यक्रम के अंतर्गत मानव तस्करी से प्रभावित 20 बालिकाओं को दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में महामहिम राष्ट्रपति जी के हाथों सम्मान प्राप्त हो रहा है।उन्होंने इस सम्मान के लिए विशेष तौर पर सीईओ जिला पंचायत सीईओ कुलदीप शर्मा और महिला बाल विकास की जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती नेहा राठिया को बधाई दी।उन्होंने जशपुर की बेटियों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि जब जब नारी शक्ति पुरस्कार की बात होगी, जशपुर की एक बेटी वहां  अवश्य खड़ी होगी। 
इस अवसर पर सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष राजशरण भगत, जिला पंचायत उपाध्यक्ष प्रबल प्रताप सिंह जुदेव,जनपद अध्यक्ष श्रीमती शारदा प्रधान,पुलिस अधीक्षक प्रशांत सिंह ठाकुर, जिला पंचायत सीईओ कुलदीप शर्मा,जनप्रतिनिधि गणमान्य नागरिक एवं अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे। 


==================================================================================










Post a comment

0 Comments