... ब्रेकिंग पत्रवार्ता : पत्रकारों के समर्थन में सामने आए "कांग्रेसी नेता",कहा राजनेताओं में "गैंग लीडर" की भावना,आप नागरिकों को प्रजा समझ रहे हैं...?

आपके पास हो कोई खबर तो भेजें 9424187187 पर

ब्रेकिंग पत्रवार्ता : पत्रकारों के समर्थन में सामने आए "कांग्रेसी नेता",कहा राजनेताओं में "गैंग लीडर" की भावना,आप नागरिकों को प्रजा समझ रहे हैं...?

जशपुर,टीम पत्रवार्ता,29 अक्टूबर 2021

BY योगेश थवाईत

जशपुर जिले में कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन में हुए बवाल एवं कुनकुरी में पत्रकारों पर एफ आई आर दर्ज करने को लेकर दिए गए ज्ञापन के मामले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सफदर हुसैन ने अपना बयान जारी किया है उन्होंने इन राजनीतिक घटना में किसी का नाम लिए बगैर इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है।

उन्होंने कहा कि अभी हाल में जिले में घटित राजनैतिक घटनाओं पर नजर डालिये तो जो एक बात बहुत स्पष्ट नजर आती है कि राजनीति से राजनैतिक मर्यादा और आचरण का बड़ी गति के साथ ह्रास हुआ है।उन्होंने कहा कि आज के परिपेक्ष्य के यह एक विचारणीय ही नहीं बल्कि दुःखद स्थिति है।

राजनेता दरअसल जनसेवक होता है और उसका हर व्यवहार संवैधानिक मानवीय और जन भावना के अनुरूप होना चाहिये। जो अभी कुछ दिनों में  हुआ वह इसके ठीक विपरीत है। 

उन्होंने पत्रकारों पर एफआईआर के लिए दिए गए ज्ञापन की घटना का जिक्र ना करते हुए इशारों में कहा कि राजनीति में सबका साथ सबका विकास महत्वपूर्ण है और साथ ही असहमतियों के लिये भी पर्याप्त स्थान का भी होना बेहद जरूरी है,लेकिन आज असहमति पर राजनेताओं का व्यवहार आक्रमक होता जा रहा है।

उन्होंने कहा कि राजनेताओं के व्यवहार और आचारण में जनसेवकों वाली भावना की जगह 'गैंग-लीडर' वाली भावना प्रबल होती जा रही है। वे लोगों को नागरिक की तरह न देखकर प्रजा की तरह देखते प्रतीत हो रहें हैं।

आज राजनेता सत्ता को जनसेवा का माध्यम न समझकर मालिक और गुलाम के चश्मे से देख रहें हैं। जिला,प्रदेश,केंद के संगठनों प्रमुखों को अपने नेताओं,संगठन-प्रमुखों,कार्यकर्ताओं के इस बेलगाम आचरण,व्यवहार पर अंकुश लगाना चाहिए और उन्हें उनका दायित्व याद दिलाना चाहिये।

वहीं अनुशासनहीनता पर दंडात्मक कार्यवाही भी करना चाहिये क्योंकि बिना अनुशासन के कोई भी संगठन ज्यादा दिन नहीं चल सकता।

Post a Comment

0 Comments