... सरोकार :कलेक्टर ने दिए जांच के निर्देश,SDM ने दिया संवेदनशीलता का परिचय,पहाड़ी कोरवा बच्चियों से मिलने पंहुची प्रशासनिक टीम.....स्वास्थ्य विभाग ने बताया फ़ूड पॉइजनिंग से बिगड़ी थी बच्चियों की तबियत..

सरोकार :कलेक्टर ने दिए जांच के निर्देश,SDM ने दिया संवेदनशीलता का परिचय,पहाड़ी कोरवा बच्चियों से मिलने पंहुची प्रशासनिक टीम.....स्वास्थ्य विभाग ने बताया फ़ूड पॉइजनिंग से बिगड़ी थी बच्चियों की तबियत..

 


जशपुर,टीम पत्रवार्ता,19 फरवरी 2021

By योगेश थवाईत

जशपुर जिले के बगीचा नगर पंचायत में दो नाबालिग पहाड़ी कोरवा बच्चियों के बेहोशी की हालत में मिलने के बाद पुलिस की तत्परता से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।अब दोनों बच्चियां स्वस्थ हैं और अपने निवास में हैं।बगीचा एसडीम सुश्री  ज्योति बी कुजूर ने संवेदनशीलता का परिचय देते हुए उनसे व उनके परिवार से मुलाकात कर उनका हालचाल जाना।

उल्लेखनीय है कि दो दिन पहले दोनों बच्चियां बेहोशी की हालत में खेत मे मिली थीं।जिसके बाद थाना प्रभारी भास्कर शर्मा ने अपनी टीम के साथ मिलकर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया था।एसडीएम सुश्री ज्योति बी कुजूर,सीएमओ निलेश केरकेट्टा,मोहन यादव के साथ बच्चियों से मिलने उनके घर पंहुची और  उनका हालचाल जाना।उन्होंने बताया कि राशन की पर्याप्त व्यवस्था उनके पास है उन्हें किसी प्रकार की परेशानी नहीं है।प्रशासनिक अमले की संवेदनशीलता से पहाड़ी कोरवा परिवार खुश दिखे। 

यहां ईलाज कर रहे चिकित्सकों ने बताया कि फ़ूड पॉइज़निंग के कारण उनकी तबियत खराब हुई थी।वहीं खबरों में यह बातें वायरल हो रहीं थी कि नशीले पदार्थ के सेवन से उनकी ये हालत हुई थी। फिलहाल उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है और अब दोनों बच्चियां स्वस्थ हैं।

मामले में कलेक्टर महादेव कावरे ने पत्रवार्ता को बताया कि एसडीएम बगीचा को जाँच के लिए निर्देशित किया गया है वहीँ उन्होंने यह भी कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में आपात स्थिति के लिए 2 क्विंटल चावल राशन की व्यवस्था है,आवश्यकता पड़ने पर ग्रामीण निःशुल्क सरपंच सचिव के माध्यम से इसे प्राप्त कर सकते हैं....।

VIDEO



Post a comment

0 Comments