... IMPACT पत्रवार्ता : "कलेक्टर कावरे" ने दिखाई "संवेदनशीलता",DEO जशपुर ने बदला अपना आदेश,अब महिलाओं को फिर से मिली जिम्मेदारी,गुणवत्ता की होगी जाँच,दोषी पाए जाने पर होगी कड़ी कार्यवाही.....

IMPACT पत्रवार्ता : "कलेक्टर कावरे" ने दिखाई "संवेदनशीलता",DEO जशपुर ने बदला अपना आदेश,अब महिलाओं को फिर से मिली जिम्मेदारी,गुणवत्ता की होगी जाँच,दोषी पाए जाने पर होगी कड़ी कार्यवाही.....

 


जशपुर,टीम पत्रवार्ता 23 फ़रवरी 2021

BY योगेश थवाईत 

जशपुर कलेक्टर महादेव कावरे ने एक बार फिर से संवेदनशीलता का परिचय दिया है।अब फिर से गाँव के स्व सहायता समूह की महिलाओं को सुखा राशन वितरण की जिम्मेदारी सौंपी गई है।उल्लेखनीय है कि जशपुर डीईओ ने एक आदेश जारी कर सुखा वितरण की समस्त जिम्मेदारी स्टेट मैनेजर,भारतीय राष्ट्रीय कृषक उपज उपार्जन प्रसंस्करण एवं फुटकर सहकारी संघ मर्यादित (नेकाफ) रतन पैलेस शैलेन्द्र नगर रायपुर को दे दी थी।जिसके कारण महिलाएं अपनी आजीविका को लेकर काफी चिंतित थीं।इस खबर को पत्रवार्ता ने प्रमुखता से उठाते हुए महिलाओं की समस्या को शासन प्रशासन के सामने रखा था।

इसके बाद जिले के कलेक्टर ने मामले को गंभीरता से लेते हुए डीईओ जशपुर को निर्देशित करते हुए तत्काल स्व सहायता समूह की महिलाओं को जिम्मेदारी सौपने का निर्देश दिया।इधर स्व सहायता समूह की महिलाएं भी डीईओ से मिलने जशपुर पंहुची थी।जशपुर जिला शिक्षा अधिकारी ने तत्काल अपने आदेश को रद्द करते हुए महिला स्व सहायता समूह द्वारा सुखा राशन वितरण किये जाने का आदेश जारी किया।

इस आदेश के मुताबिक अब स्व सहायता समूह द्वारा स्कूलों में पुनः सुखा राशन वितरण किया जा सकेगा।

"कलेक्टर महादेव कावरे ने पत्रवार्ता से बताया कि स्व सहायता समूह के द्वारा यथावत स्कूलों में सुखा राशन वितरण कराया जाएगा,समूह को गुणवत्ता का पुर्ण सामग्री का वितरण करना होगा,इसकी सतत जाँच की जाएगी,दोषी पे जाने पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी"

इस खबर पर हुआ असर 

क्लिक करें 🔻

सुनो सरकार : "सवालों "के घेरे में "भूपेश सरकार"/2021/02/deo.html

Post a comment

0 Comments