शैलेष का मंत्री को दो टूक,ज़रूरत पड़ी तो काँग्रेसी भी लाठी का जवाब लाठी से देने के लिये तैयार,हार के डर से घबराए मंत्री का बोल रहा अहंकार.


बिलासपुर(पत्रवार्ता.कॉम)नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल के नए बयान के बाद एक बार फिर से सियासत गरमा गयी है। काँग्रेस नेता शैलेष पांडेय इसे सत्ता का अहंकार बताते हुए मंत्री के बयान की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने दो टूक कहा है कि मंत्री काँग्रेसियों को कमजोर समझने की भूल न करें। ज़रूरत पड़ी तो काँग्रेसी भी लाठी का जवाब लाठी से देने के लिये तैयार हैं। 

दरअसल बीते दिनों काँग्रेस भवन में घुसकर काँग्रेसियों पर हुए लाठीचार्ज मामले को लेकर एक कार्यक्रम में बोलते हुए मंत्री अमर अग्रवाल ने ये कहते हुए फिर एक नए विवाद को जन्म दे दिया है कि कांग्रेसी इसी लायक है। उन्होंने कहा कि उनके पास हज़ारों लोगों के फोन आये, सब बोले ये इसी के लायक हैं, इनको कम पड़ी है। उन्होंने ये भी कहा कि पुलिस ने कांग्रेसियों को ज्यादा तो नही मारा लेकिन थोड़ा बहुत जो भी किया है, कांग्रेसी उसी का सहानुभूति लूटने वीडियो को वायरल कर रहे हैं। मंत्री अमर ने इस दौरान काँग्रेस को खुली चुनौती देते हुए कहा कि खूब पोस्टर लगाएं, वीडियो वायरल करें, लेकिन उनका दावा और विश्वास है कि बिलासपुर ही नही बल्कि पूरे प्रदेश में काँग्रेस का कोई स्थान नही रहेगा। 

इधर मंत्री के इस बयान के बाद एक बार फिर सियासत को नई हवा मिल गयी। काँग्रेस इसे सत्ता के नशे में चूर मंत्री का अहंकार बताकर इसकी आलोचना कर रही है। प्रदेश प्रवक्ता शैलेष पांडेय ने कहा कि मंत्री महोदय सत्ता के नशे में इतने मदमस्त हैं कि उन्हें किसी के घर, कांग्रेस भवन में घुसकर लोगों पर लाठी बरसाना सही लग रहा है। वो भी तब जब न्यायधानी से लेकर देश की राजधानी तक कार्रवाई को लेकर लोगों का आक्रोश सामने है। पांडेय ने कहा कि मंत्री अभी से हार के डर से घबरा गए हैं, चूंकि इस कार्रवाइ में सीधे तौर पर वो ज़िम्मेदार हैं। काँग्रेस ने मामले में न्यायिक जांच, दोषियों पर एफआईआर व उनके बर्खास्तगी की मांग की है। साथ ही मांग पूरी न होने तक सरकार व मंत्री के कार्यक्रमो का विरोध करने का भी ऐलान किया है। 

बहरहाल लाठी की गूँज अब तक बरकरार है, काँग्रेस इसे हथियार बनाकर लगातार भाजपा पर प्रहार कर रही है।

देखें वीडियो ...



Comments

Popular Posts

"जशपुरिया मॉडल दिल्ली में हुई हिट",मॉडल "रेने" का वह गाँव जहाँ से शुरू हुई संघर्ष की कहानी,पत्रवार्ता की टीम पंहुची रेने के घर

BREAKING(पत्रवार्ता)शासकीय महिला कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर,छग में भी लागू होगा चाइल्ड केयर लीव,हाईकोर्ट ने दिया आदेश..

बड़ी खबर : जब उड़नदस्ता टीम ने छात्राओं के उतरवाए कपड़े...? ..और फांसी के फंदे पर झूल गई 10 वीं की छात्रा।