देखें वीडियो:जब सीएम के कार्यक्रम में कॉन्ग्रेसियों ने लगाया सेंध,बीच सभा में लहराया काला झंडा,नारेबाजी कर मचाया जमकर हंगामा.


सक्ति/जांजगीर(पत्रवार्ता.कॉम)सक्ति में अटल विकास यात्रा के दौरान कांग्रेसी, सरकार के चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था को भेदने में कामयाब रहे। सीएम डॉ.रमन सिंह के भाषण के दौरान बीच सभा में कांग्रेसियों ने काला झंडा दिखा कर जमकर नारेबाजी की। अचानक नारेबाजी व काला झंडा दिखाने की घटना से सीएम भी भौचक रह गए। उन्होंने दो मिनट के लिए भाषण रोक दिया।

दरअसल चंद्रपुर विधानसभा क्षेत्र के काँग्रेसी एकलव्य चन्द्रा  के साथ अन्य दो कांग्रेसी चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था को भेदते हुए सक्ति में आयोजित अटल विकास यात्रा के सभा स्थल तक पहुँच गए। इस दौरान जैसे ही सीएम सभास्थल पहुँचे और अपना भाषण शुरू किया, अचानक भीड़ के बीच से हाँथ में काला झंडा लिए कांग्रेसी सरकार व सीएम के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए काला झंडा लहराने लगे। एकाएक नारेबाजी व काला झंडा लहराने के बाद मुख्यमंत्री भी भौचक रह गए। 2 मिनट के लिए उन्होंने भाषण रोक दिया। इस बीच तीनों कॉन्ग्रेसियों को गिरफ्तार कर पुलिस सभास्थल से बाहर ले गयी। लेकिन तब तक कांग्रेसियों ने अपने मंसूबो को अंजाम देते हुए विरोध दर्ज करा दिया।

इधर घटना के बाद दोबारा भाषण शुरू करते हुए सीएम पूरे कार्यक्रम भर काँग्रेस को कोसते दिखे। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी जैसा करेंगे, वैसा भरेंगे। काँग्रेस की हरकत से नैतिकता नाम की चीज खत्म होती जा रही है। अश्लील सीडी दिखाकर काँग्रेस के लोग सत्ता पाना चाहते हैं लेकिन ये कतई नही होगा, जनता आगामी चुनाव में उन्हें इसका जवाब देगी।

बहरहाल काला झंडा दिखाने की घटना के बाद प्रशासन के हाँथ पांव फूल गए हैं, सबसे अधिक परेशानी सीएम व सभा स्थल की सुरक्षा व्यवस्था में तैनात किए गए सुरक्षाकर्मियों और अधिकारियों की है। सुरक्षा की अभेद्य व्यवस्था को पार करते हुए किस प्रकार से कांग्रेसी सीएम को काला झंडा दिखाने में कामयाब हो गए।

देखें वीडियो..


Comments

Popular Posts

"जशपुरिया मॉडल दिल्ली में हुई हिट",मॉडल "रेने" का वह गाँव जहाँ से शुरू हुई संघर्ष की कहानी,पत्रवार्ता की टीम पंहुची रेने के घर

BREAKING(पत्रवार्ता)शासकीय महिला कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर,छग में भी लागू होगा चाइल्ड केयर लीव,हाईकोर्ट ने दिया आदेश..

बड़ी खबर : जब उड़नदस्ता टीम ने छात्राओं के उतरवाए कपड़े...? ..और फांसी के फंदे पर झूल गई 10 वीं की छात्रा।