.

ऐसे में जशपुर "यशपुर" कैसे बनेगा..? जहाँ पंचायतों में ठेकेदारी और घटिया निर्माण से ......?

न गुणवत्ता न मापदंड ये कैसा काम..?

जशपुर(पत्रवार्ता.कॉम) एक ओर जहाँ जशपुर को यशपुर बनाने की कवायद चल रही है वहीँ दूसरी ओर पंचायत के सरपंच सचिव और जनपद पंचायत के इंजिनियर मिलकर जमकर भ्रष्टाचार कर रहे हैं वो भी कहाँ जशपुर जिला मुख्यालय से महज 12 किलोमीटर की दुरी पर..क्या है मामला ......?

जशपुर के ग्राम पंचायत पतराटोली में निर्माण कार्य गुणवत्ता को लेकर इन दिनों सोशल मिडिया पर जमकर बहस छिड़ी हुई है वहीँ इससे जुड़ी हुई घटिया निर्माण कार्य का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें पंचायत के पैसे का दुरूपयोग कैसे होता है ये साफ साफ नजर आ रहा है।उक्त वीडियो में घटिया निर्माण कार्य  नजर आ रहा है ।

दरअसल मामले की गहराई में जाने पर पता चला की ग्राम पतराटोली में 20 लाख रूपये की लागत से बाज़ार शेड एवं नाली का निर्माण कार्य पंचायत में स्वीकृत हुआ है।उक्त निर्माण कार्य को पंचायत स्वंय न कराकर तथाकथित ठेकेदार से करा रही है।ठेकेदार के द्वारा उक्त निर्माण कार्य सारे नियमों को ताक पर रख कर कराया जा रहा है।जिसमे मापदंडों के अनुरूप सामग्री का प्रयोग नहीं किया गया है जिसमे इंजिनियर अधिकारी से लेकर पंचायत तक की मिली भगत है .....



वायरल वीडियो में नाली के ऊपर स्लैब का निर्माण किया गया है,जिसमें न तो छड़ का उपयोग किया गया है न ही गुणवत्ता का ध्यान रखा गया है और न ही नियमों का। वीडियो के वायरल होने पर लोगों के द्वारा तरह तरह की चर्चाएं की जा रही हैं वहीँ गुणवत्ता पर जांच उपरान्त कार्यवाही का भी मांग भी की जा रही है।

फिलहाल उक्त मामले में अप जिला प्रशासन क्या कार्यवाही करती है यह देखने वाली बात होगी क्युकि ऐसे कारनामों से तो जशपुर यशपुर नहीं बन सकता......
Share on Google Plus

About patravarta.com

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 Comments:

Featured Post

बड़ी खबर : जब उड़नदस्ता टीम ने छात्राओं के उतरवाए कपड़े...? ..और फांसी के फंदे पर झूल गई 10 वीं की छात्रा।

जशपुर(पत्रवार्ता) बोर्ड परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए जांच के नाम पर छात्र छात्राओं के कपड़े उतरवाकर जांच किए जाने का मामला सामने आया ...