Recents in Beach


BIG BREKING:-दीदी जीजा के दोहरे हत्याकांड की साजिश का सच,हत्या का क्या था राज..क्या हुआ खुलासा ? मास्टर माइंड की पूरी कहानी पत्रवार्ता डॉट कॉम पर


जशपुर(पत्रवार्ता.कॉम) सात माह पहले दीदी जीजा के दोहरे हत्याकांड के अंधे क़त्ल की गुत्थी को बगीचा पुलिस ने सुलझा लिया है।हत्या की साजिश रचने वाला कोई और नहीं खुद मृतिका की छोटी बहन पार्वती है जिसने बड़ी चालाकी से सुनियोजित तरीके से दोनों की जान ले ली और यहाँ तक की उसने साक्ष्यों को भी छुपाने का प्रयास किया। क्या है पूरा मामला ..?  कैसे पार्वती ने दिया हत्या को अंजाम ......?    

मामला है बगीचा थाना इलाके के सरडीह का जहाँ 7 जनवरी को टेमना राम और उसकी पत्नी राजन बाई के तबियत खराब होने पर उन्हें शासकीय अस्पताल शांतिपारा बतौली में ईलाज के लिए भर्ती कराया गया। जहाँ ईलाज के दौरान दोनों पति पत्नी की मौत हो गई।

परिजनों की रिपोर्ट पर थाना बतौली मे शून्य मे मर्ग कायम कर पंचनामा कार्यवाही की गई थीघटना स्थल  सरडीह होनेके कारण मामले की अग्रिम जाँच बगीचा में की गई।विवेचना के दौरान यह संदेह था कि यह स्वाभाविक मौत नहीं बल्कि कोई अपराध घटित हुआ है।मृतकों के पीएम रिपोर्ट में मौत का कारण जहर बताया गया है 

बिसरा परीक्षण से जहर की पुष्टि
मृतकों का विसरा रासायनिक परिक्षण के लिए रिजर्व किया गया था जिसे जप्त शराब के बोतल के साथ परीक्षण के लिए रायपुर फोरेंसिक लैब भेजा गया था।जिसमे मौत का कारण कीटनाशक दवाई मोनोक्रोटोफास एवं एथाईल एल्कोहल को बताया गया है।पति पत्नी की मौत किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा शराब में कीट नाशक दवाई मिलाकर देने से होना पाये जाने पर थाना बगीचा में सात महीने बाद 12 जुलाई को अज्ञात आरोपी के विरूद्ध हत्या का मामला दर्ज कर मामले की जाँच शुरू की गयी

शराब में जहर मिलाने वाले ने किया खुलासा 
घटना के दिन मृतक टेमना के साथ रहे उसके साथी जोगना तुरी से पूछताछ करने पर उसने बताया कि करीब 6-7 माह पूर्व हर्राटोली शंकरगढ़ की रहने वाली पार्वती तुरी ग्राम सरडीह आई थी और उससे बोली कि इसकी दीदी राजन बाई और जीजा टेमना बहुत दारू पीते है उनके दारू पीने की आदत छुड़ाना है जिसके लिए अपने गांव से वह दारू छुड़ाने की दवाई बनवाकर लाई है।उसने आरोपी को कहा कि वह उस दवाई को दीदी जीजा को दारू में मिलाकर पिला देना जिससे उनके शराब पीने की आदत छुट जाए

बहन पार्वती ने रचा हत्या का षड्यंत्र 
पार्वती ने आरोपी जोगना को एक पुड़िया दी जिसे आरोपी अपने पास रख लिया और मौका पाकर उसने शराब की बोतल में उसे मिला दिया।आरोपी ने बताया कि घटना के दिन दोनो शाम को गांव के दुर्गा तुरी के घर शराब लेने गये थे जहां दुर्गा के घर से आरोपी व टेमना एक लाल रंग के बीयर वाले बोतल मेें तीस रुपये का एक पेटी शराब लिये इसके बाद मौका देकर उसने शराब के बोतल में पार्वती द्वारा दिये पुडिया को मिला दिया
 

एसडीओपी पद्मश्री तंवर ने बताया कि 
जहर मिले शराब के सेवन के  बाद दोनो पति पत्नी 
की हालत बिगड़ने लगी और दोनों की ईलाज के दौरान मौत हो 
गयी।टेमना एवं राजन बाई की मौत पार्वती के 
द्वारा दिये हुए पुडिया को शराब में मिलाकर देने 
के कारण हुई है  उन्होने बताया कि
पार्वती ने जमीन हडपने के  लिए अपने दीदी जीजा 
को जहर की पुडिया दे दी 


पुलिस के खुलासे में यह बात सामने आई कि मृतक का हर्राटोली शंकरगढ़ में स्थित करीब ढाई तीन एकड़ जमीन है जिसे हड़पने के लिये पार्वती ने षडयंत्र रचा इसके लिए उसने सह आरोपी जोगना को पुडिया देकर शराब में मिलवाकर दीदी जीजा को पिलवा दिया जिससे उनकी मौत हो गयी  

मामले में एक आरोपी जोगना तुरी की गिरफ्तारी हो गई है वहीँ मुख्य आरोपी पार्वती अब भी फरार है।आरोपी जोगना के परिवार वाले उससे मिलने अपने छोटे बच्चो के साथ थाने पहुंचे,जिनका रो रोकर बुरा हाल था  रो रोकर वे बार बार पार्वती को कोस रहे थे   

हत्याकांड के अन्धे कत्ल की गुत्थी को सुझबुझ से सुलझाने मे  एसडीओपी बगीचा पदम श्री तंवर, टीआई बगीचा राजेश मरई, उप निरीक्षक एलआर भगत,सउनि राजवाडे, संजय गोस्वामी,आरक्षक उपेन्द्र सिंह,अरूण कुजूर,सुनीता केसरी की महत्त्वपूर्ण भूमिका रही। 

===============================

फर्जी लायसेंस पर संचालित दवाई दुकान सील,झोलाछाप के ईलाज से महिला की मौत का मामला

फर्जी डॉक्टर ने किया ईलाज,ग्रामीण महिला की मौत  


यहाँ क्लिक करें 
👇👇👇👇

इंडियन रेहाना के विडियो के लिए यहाँ क्लिक करें 
👇👇👇👇👇👇👇👇

👇👇👇👇



Post a Comment

0 Comments