... खुलासा :"पति" व "सास - ससुर" ने मिलकर की थी "बहु" की "हत्या" ,3 दिन पहले कुँए में मिली थी "नवविवाहिता की लाश",पोस्टमार्टम रिपोर्ट में अहम बात आई सामने ,जशपुर SP की त्वरित कार्यवाही से मचा हडकंप ...सभी आरोपी गिरफ्तार

खुलासा :"पति" व "सास - ससुर" ने मिलकर की थी "बहु" की "हत्या" ,3 दिन पहले कुँए में मिली थी "नवविवाहिता की लाश",पोस्टमार्टम रिपोर्ट में अहम बात आई सामने ,जशपुर SP की त्वरित कार्यवाही से मचा हडकंप ...सभी आरोपी गिरफ्तार

 


जशपुर,टीम पत्रवार्ता,12 अगस्त 2020

जिले के बगीचा थाना क्षेत्र के पंडरापाठ चौकी के सुलेसा में बीते 9 अगस्त को नवविवाहिता की लाश कुएं में मिली थी।जिसके शरीर पर गंभीर चोट के निशान भी मिले थे।प्रारम्भिक जांच में पति पत्नी के विवाद की बात सामने आई थी जिसमें मृतिका के पति व उसके घरवालों ने पुलिस को गुमराह करते हुए इस घटना को सुसाईड बताया था।प्रथम दृष्टया मामला हत्या का होने प्रतीत होने पर व नवविवाहिता होने से कार्यपालिक दंडाधिकारी बगीचा से शव पंचनामा कार्यवाही कराया गया एवम वीडियोग्राफी कर डाक्टरों के टीम के द्वारा पीएम कराया गया पीएम रिपोर्ट में नवविवाहित मृतिका की मृत्यु हत्या करने से होना पाया गया।

पंडरापाठ चौकी की लगातार मिल रही शिकायतों के बीच जशपुर एसपी  बालाजी राव के निर्देश पर एसडीओपी मनीष कुंवर समेत बगीचा थाना की टीम ने पुरे मामले की गहराई से जाँच की जिसमें यह बात सामने आई कि नवविवाहित मृतिका भगवती यादव की हत्या उसके पति चिंतामणि यादव,ससुर श्रीराम यादव व सास बचिया यादव ने मिलकर की है।सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस ने बताया कि घर में मृतिका के साथ डंडा राड से मारपीट करने से मृतिका के शरीर से निकला खून और हाथ का टूटा चूड़ी मिला जिस पर संदेह होने से मृतिका के पति चिंतामणि यादव से कड़ी पूछताछ की गई।विवेचना में यह बात सामने आई कि मोबाइल पर ज्यादा बातचीत करने को लेकर लड़ाई हुआ था। जिस पर चिंतामणि यादव ने अपनी पत्नी के साथ मार पीट किया व धक्का मार दिया जिससे मृतिका आलमारी के कुण्डी से टकरा गई और उसको चोट आ गया।

आलमारी के पास खून निकला था जिस पर मृतिका पुलिस चौकी की ओर रिपोर्ट करने जा रही थी तो पीछे से चिंतामणि उसका पिता श्रीराम ओर मां बचिया यादव मृतिका के पीछे जाकर वापस ला रहे थे तब मृतिका ने मना किया और पुलिस में रिपोर्ट की धमकी दी।जिसके बाद उन्होंने डंडा व लोहा के राड से मार पीट की और कपिल यादव के कुआं के पास ले गए।मृतिका हल्ला कर रही थी जिसको बंद करने के लिए तीनों ने मिलकर मृतिका के मुंह व नाक को गमछा से दबा दिया जिससे मृतिका की मृत्यु हो गई।

हत्या को आत्महत्या का रूप देने के लिए उन्होंने अपनी बहु को कुँए में डाल दिया और घर में गिरे खून को मिट्टी से खुरप कर हटाने का प्रयास किया।कुछ जगह के खून के धब्बे नहीं हटे थे।पुलिस ने पति चिंतामणि यादव समेत सास ससुर के खिलाफ धारा 302,201 आईपीसी के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।तीनो आरोपियों को गवाहों के समक्ष पूछताछ कर अपराध सबुत जप्त किया गया और आरोपियों के विरूद्ध पर्याप्त अपराध सबुत पाए जाने से  गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया गया,जहाँ से उन्हें जेल भेजने की कार्यवाही की जा रही है।

प्रकरण में पुलिस अधीक्षक जशपुर बालाजी राव,एसडीओपी कुनकुरी मनीष कुंवर के दिशा निर्देश पर मामले के प्रकरण को थाना प्रभारी बगीचा भास्कर शर्मा,चौकी प्रभारी जग साय पैकरा, एएसआई अलंगो दास,आ राजकुमार मनहर की अहम भूमिका रही।

इससे जुडी खबर पढ़ें 

CLICK - कुँए से निकाली गई मृतिका की लाश


Post a comment

0 Comments