... लापरवाही : "कन्टेन्टमेंट जोन" बनने के 10 दिन बाद भी नहीँ आई "टेस्ट रिपोर्ट" स्वास्थ्य अमले पर सवालिया निशान.....?

लापरवाही : "कन्टेन्टमेंट जोन" बनने के 10 दिन बाद भी नहीँ आई "टेस्ट रिपोर्ट" स्वास्थ्य अमले पर सवालिया निशान.....?



जशपुर,टीम पत्रवार्ता,06 जून 2020

बीते 10 दिनों से जशपुर जिले का बगीचा नगर पंचायत कन्टेन्टमेंट जोन बना हुआ।आवश्यक सेवाओं पर भी पूर्णतः रोक लगी हुई है।स्थानीय नागरिक पूरी तत्परता से पूर्ण लॉकडाऊन का पालन कर रहे हैं।इसके ठीक विपरीत 10 दिन पहले संदिग्धों के सैम्पल रिपोर्ट न आने से स्वास्थ्य अमले की सजगता को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं।

दरअसल बगीचा नगरीय क्षेत्र में पहला पॉजिटिव केस मिलने के बाद संबंधित जिम्मेदार अधिकारी द्वारा प्राइमरी व सेकेंडरी संपर्क का चिन्हांकन कर बगीचा स्वास्थ्य विभाग को सूचित किया गया था।जिसके बाद 28 मई को लगभग 17 लोगों का सैम्पल लेकर जांच के लिए भेजा गया था।लगभग 10 दिन बीत जाने के बाद भी अब तक सम्बंधित लोगों की टेस्ट रिपोर्ट नहीं आई है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 17 लोगों का एक साथ सैम्पल भेजा गया था जिसमें से तीन लोगों की रिपोर्ट प्राप्त हुई है जो नेगेटिव बताई जा रही है बाकी 14 लोगों की रिपोर्ट के बारे में कोई सही जवाब नहीं मिल रहा है।स्वास्थ्य विभाग से पता करने पर पता चला कि सैम्पल रायपुर भेजे जाने के लिए लॉक किया गया था वहीं जिला से उसे रायगढ़ भेजे जाने की खबर है।बताया जा रहा है कि जल्द रिपोर्ट आए इसके लिए सैम्पल रायगढ़ भेजा गया है।फिलहाल रिपोर्ट का इंतजार सभी को है जिससे बगीचा नगरीय क्षेत्र की दशा व दिशा का निर्धारण हो सकेगा।

मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला प्रशासन को पहल करने की जरुरत है।जिससे सैम्पल की जांच जल्द प्राप्त हो सके और एहतियातन नगरीय क्षेत्र में बढ़ने वाले संक्रमण पर पहले ही विराम लगाया  जा सके।





Post a comment

0 Comments