... BREAKING पत्रवार्ता : "कोरोना संकट " से निपटने वित्तमंत्री ने 1 लाख 70 हजार करोड़ के राहत पैकेज का किया एलान,पहली प्राथमिकता कोई भूखा न सोए, कर्मचारियों के लिए 50 लाख की बीमा,गरीब किसानों को 5 किलो अतिरिक्त अन्न व जनधन खाते में मिलेंगे 2 हजार ₹,महिलाओं को आगामी 3 महीने 500 ₹ की मासिक सहायता।

BREAKING पत्रवार्ता : "कोरोना संकट " से निपटने वित्तमंत्री ने 1 लाख 70 हजार करोड़ के राहत पैकेज का किया एलान,पहली प्राथमिकता कोई भूखा न सोए, कर्मचारियों के लिए 50 लाख की बीमा,गरीब किसानों को 5 किलो अतिरिक्त अन्न व जनधन खाते में मिलेंगे 2 हजार ₹,महिलाओं को आगामी 3 महीने 500 ₹ की मासिक सहायता।



नई दिल्ली,टीम पत्रवार्ता,26 मार्च 2020

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने वैश्विक महामारी कोरोना से निपटने के लिए गरीब,मजदूर व महिलाओं के लिए 1 लाख 70 हजार करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान किया है।उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर विस्तार से इसकी जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि अन्न व धन दोनों तरह से लोगों की वे मदद करेंगे,वित्तमंत्री ने कहा उनकी पहली प्राथमिकता होगी कि कोई भी भूख से न मरे।


पीएम गरीब कल्याण योजना के तहत आर्थिक मदद का एलान किया गया है जिसमें
  • आगामी 3 महीनों तक 5 किलो अनाज दिया जाएगा जिसमें गरीबों को गेंहू,चावल के साथ 1 किलो दाल निःशुल्क प्रदाय किया जाएगा।80 करोड़ गरीबों को 5 किलो अतिरिक्त राशन दिए जाने की घोषणा वित्तमंत्री ने की है।

  • किसानों के लिए पीएम किसान निधी के तहत किसानों को 2 हजार रुपए की मासिक किश्त दी जाएगी।

  • जनधन खाताधारक महिलाओं को अगले तीन महीनों तक पांच सौ रुपए आर्थिक मदद दिया जाएगा।उज्ज्वला गिस कनेक्शन के हितग्राहियों को आगामी 3 महीने तक फ्री में गैस सिलेंडर मिलेगा।जिसमें 8 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा।

  • बुजुर्गों,दिव्यांगों को 1 हजार रुपए मिलेंगे।

  • मनरेगा मजदूरों की दिहाड़ी मजदूरी बढ़ाकर 202 रुपए की गई।2 हजार रुपए सहायता खातों में दिए जाएंगे

  • कोरोना से लड़ रहे कर्मियों डॉक्टर,नर्सेस व पैरा मेडिकल कर्मचारियों के लिए 50 लाख का बीमा।

  • वर्कर्स वेलफेयर फंड के तहत 31 हजार करोड़ के फंड का सदुपयोग करते हुए निर्माण,प्लेसमेंट व अन्य नौकरी करने वाले कर्मचारियों,नियोक्ता कंपनी व उनके कर्मचारी जहां 100 कर्मचारी से कम हों उन कर्मचारियों,मजदूरों का आगामी 3 महीने का ईपीएफ का पैसा सरकार जमा करेगी।15 हजार से काम सैलेरी वाले कर्मचारियों को इसका लाभ मिलेगा।संगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए भी राहत का एलान।

Post a Comment

0 Comments