Recents in Beach


अनुकरणीय :-प्रतिभा परिष्कार का सराहनीय कार्य कर रही डीएव्ही एमपीएस-विकास शुक्ला


  • छः दिवसीय खेलकूद प्रतियोगिता का समापन।
  • प्रतिभागियों को पुरस्कार का वितरण।
By योगेश थवाईत
बगीचा(पत्रवार्ता) स्थानीय डीएव्ही मुख्यमंत्री पब्लिक स्कूल में छः दिवसीय खेलकूद समारोह का समापन किया गया।जिसमें स्कूल के छात्र छात्राओं ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।समापन कार्यक्रम में पधारे मुख्य अतिथि बगीचा थाना प्रभारी विकास शुक्ला ने बच्चों को आत्मविश्वास बढ़ाने के टिप्स दिए।

खेलकूद समारोह के पुरस्कार वितरण कार्यक्रम की शुरुआत वैदिक मंत्रोच्चार से करते हुए मुख्य अतिथियों को तिलक लगाकर पुष्प गुच्छ भेंट किया गया।बच्चों ने सामूहिक स्वागत गान व नृत्य के साथ सभी आगंतुक अतिथियों का स्वागत किया।जिसमें तारा कंसारी व संगीत शिक्षक नागेन्द्र साय ने छात्रों का सहयोग किया।



स्वागत उद्बोधन में विद्यालय के प्राचार्य एसएन पाण्डेय ने बताया कि विद्यालय शैक्षणिक गतिविधियों के साथ विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिए कटिबद्ध है।इसे ध्यान में रखते हुए खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है।उन्होंने कहा कि हर बच्चे में प्रतिभा छुपी हुई है जिसे बाहर लाना और परिष्कृत करना उनका कर्तव्य है।
प्रिंसिपल एसएन पांडे ने बताया कि 
हरेक के पास एक फन होता है 
तभी वह हरफनमौला होता है।
बच्चों की दक्षता उनके प्रतिभा 
को निखारने का काम करता है।

डीएव्ही प्रबंधन के 8 बच्चे जोनल गेम्स कॉम्पिटिशन में जा चुके हैं।बच्चे अपने हुनर को दिखाएं अपनी प्रतिभा विकसित करें।उन्होंने बताया कि प्रबंधन बच्चों को दिशा देने के काम पूरी मुस्तैदी से कर रहा है और निश्चित ही इससे दशा स्वयं ही बदलती चली जाएगी।।


पिछले छः दिनों में डीएवी बगीचा के छात्रों ने अन्तर सदनीय खेल कूद प्रतियोगिताओं में बढ़ चढकर हिस्सा लिया,इसमें 200 मीटर से लेकर 800 मीटर की दौड़,कब्बडी,खो-खो,गोला प्रक्षेपण,चक्र प्रक्षेपण, भाला प्रक्षेपण,ऊंची कूद,लम्बी कूद,क्रिकेट व छोटे बच्चों के लिए टाॅफी दौड़,जलेबी दौड़,कंगारू दौड़, बैलून दौड़,चम्मच दौड़ जैसे रोचक खेल शामिल हैं।

                            


कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बगीचा थाना प्रभारी विकास शुक्ला ने छात्र छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि 
आत्मबल विकसित करने के लिए खेलकूद सशक्त माध्यम है।अगर आप खेलकूद में भागीदारी लेते हैं तो शरीरिक विकास के साथ आपका मानसिक विकास भी होगा और आप स्वस्थ मानसिकता के साथ अपने लक्ष्य की ओर अग्रसर होंगे।श्री शुक्ला ने बच्चों की हौसला अफजाई करते हुए बताया कि जीवन मे अपने लक्ष्य के लिए आत्मविश्वास का होना जरूरी है।जिससे आप किसी भी काम को बेहतर तरीके से कर सकते हैं।स्वस्थ शरीर के साथ आत्मविश्वास आपको सफलता के शिखर पर पंहुचा सकता है।

इस अवसर पर पधारे अन्य युवा आगंतुकों ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि 

डीएव्ही प्रबंधन द्वारा प्रतिभाओं को परिष्कृत 
करने का जो कार्य किया जा रहा है 
वह सराहनीय है।उन्होंने बच्चों से 
अपील करते हुए कहा कि जब 
तक आपके अंदर जुनून और विश्वास 
है और आप परिश्रम के लिए तैयार हैं 
तब तक आप दुनिया में कोई भी 
काम कर सकते हैं।

सम्मान से व्यक्ति के अंदर आत्मविश्वास बढ़ता है,प्रेरणा मिलती है और हौसला बढ़ता है,सम्मान एक ऐसी अभिव्यक्ति है जिससे विशेष पहचान मिलने से व्यक्ति और ऊंचाई तक जा पहुंचता हैlजितना सम्मान हम सामने वाले का करते हैं उनकी नज़रों में हमारा हमारे प्रति भावनात्मक जुड़ाव होता है।सम्मान प्रतिभाओं की जननी हैl इसी प्रतिभा के परिष्कार का कार्य डीएव्ही कर रही है।


विविध प्रतियोगिताओं में जिन बच्चों ने हिस्सा लिया उन्हें विद्यालय प्रबंधन द्वारा मेडल प्रदान किया गया। साथ ही क्षेत्रीय स्तर पर अच्छे प्रदर्षन करने वाले सात विद्यार्थियों को भी मुख्य अतिथ द्वारा 500 रू व मेडल प्रदान किए गए।इस अवसर पर अधिवक्ता सुनील सिन्हा,नीलकंठ गुप्ता,भगवान गुप्ता,शिवनाथ समेत अभिभावक पत्रकार व छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालय के खेल शिक्षक विजय कुमार पटेल व अन्य शिक्षक शिक्षिकाओं की भूमिका सराहनीय रही। मंच का संचालन शिक्षक विक्रम सिंह व मुरली चौहान ने किया।

Post a Comment

0 Comments