Recents in Beach


मंदसौर गैंगरेप-कठुआ पर चीखने वाले कहां गए? मालिनी अवस्थी ने बॉलीवुड को लताड़ा

मुंबई (पत्रवार्ता.कॉम) मध्यप्रदेश के मंदसौर में 7 साल की बच्ची के साथ हुए गैंगरेप के मामले में पूरा देश उबाल पर है जमकर बवाल हो रहा है इस दौरान लोक गायिका मालिनी अवस्थी ने बॉलीवुड सेलिब्रिटीज के मौन को लेकर तीखा हमला बोला है।

मालिनी ने ट्वीट कर कहा ,

‘कठुआ पर शर्म आई और मंदसौर पर जुबां पर ताले!
आक्रोश में भेदभाव!बॉलीवुड में अब न कोई तख्ती
 लटका रहा,न ही कोई विदेशी अखबारों और मीडिया 
में भारत को बदनाम करता हुआ लेख लिख रहा। 
न घंटों विलाप करने वाले एंकर अब व्यथित दिख रहे!" 

बच्चियों में भी भेदभाव का दोहरा मापदंड सिर्फ सेक्युलर कर सकते हैं।’उनके इस ट्वीट पर कई लोगों ने उन्हें यह कह कर ट्रोल कर दिया कि वो रेप जैसी घटनाओं को धर्म के चश्में से देख रही हैं,हालांकि बहुत से लोगों ने उनका साथ देते हुए बॉलीवुड के उन कलाकारों को ट्रोल करना शुरू कर दिया जिन्होंने कठुआ गैंगरेप के समय तख्ती लटकाकर विरोध प्रदर्शन किया था।

वहीं उनको ट्रोल करने वाले आरोपियों पर करारा जवाब देते हुए मालिनी अवस्थी ने कहा,

 ‘मेरा सवाल उन बॉलीवुड कलाकारों से था, 
जिन्हें कठुआ कांड को लेकर शर्म आई थी, 
लेकिन मंदसौर की घटना पर शर्म क्या दुख तक नहीं हुआ?’

"Here is my tweet and I stand by it!This is about Selective outrage in Bollywood and media which is very visible!As an artist I steer clear of falling trap into any political controversies that journalists like @abhisar_sharma create!"
Tweet is very much here!

                                                                                 — Malini Awasthi (@maliniawasthi) June 30, 2018

उन्होंने कहा कि वो खुद भी एक औरत हैं और उनका मानना है कि रेप का किस्सा निर्भया का हो या कठुआ का या फिर कोई भी रेप की घटना, दोषियों को फांसी की सजा मिलनी ही चाहिए।’गौरतलब है कि मंदसौर में बच्ची के साथ रेप की घटना के बाद मध्य प्रदेश के विभिन्न शहरों में आरोपी को मृत्युदंड देने की मांग करते हुए विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं।
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को घटना की निंदा करते हुए कहा कि दुष्कर्म करने वाले धरती पर बोझ हैं और उनकी सरकार दोषियों को फांसी पर लटकाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी।उन्होंने पीड़िता का बेहतरीन इलाज कराने का आश्वासन देते हुए कहा था कि भविष्य में उसकी देखभाल और उसकी सारी जरूरतों का खर्च सरकार वहन करेगी।

Post a Comment

0 Comments