... ब्रेकिंग पत्रवार्ता :अस्पताल के मर्च्युरी में पोस्टमार्टम शुरु, पोस्टमार्टम हाउस तक ले जाने के लिए नहीं मिला शव वाहन,सड़क हादसे में 2 लोगों की मौत,दोपहर से अस्पताल में खड़े हैं परिजन,शव वाहन को लेकर स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही आई सामने,परिजनों ने अस्पताल में दिया धरना, लगे BMO मुर्दाबाद के नारे...स्वास्थ्य विभाग होश में आओVideo

आपके पास हो कोई खबर तो भेजें 9424187187 पर

ब्रेकिंग पत्रवार्ता :अस्पताल के मर्च्युरी में पोस्टमार्टम शुरु, पोस्टमार्टम हाउस तक ले जाने के लिए नहीं मिला शव वाहन,सड़क हादसे में 2 लोगों की मौत,दोपहर से अस्पताल में खड़े हैं परिजन,शव वाहन को लेकर स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही आई सामने,परिजनों ने अस्पताल में दिया धरना, लगे BMO मुर्दाबाद के नारे...स्वास्थ्य विभाग होश में आओVideo

 


जशपुर,टीम पत्रवार्ता,11 सितंबर 2021

BY योगेश थवाईत

जशपुर के बगीचा में दोपहर 12 बजे के आसपास हुए दुर्घटना में दो लोगों की मौत के बाद 1 बजे से शव मर्च्युरी में रखा हुआ है।जहां शाम 5 बजे तक शव वाहन की व्यवस्था नहीं हो सकी।पोस्टमार्टम के लिए जिम्मेदार डॉक्टर खड़े रहे पुलिस ने प्रक्रिया पुरी पर ली इसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा शव वाहन की व्यवस्था नहीँ की जा सकी।

अब मामले को शांत करते हुए सीएमएचओ पी सुथार के निर्देश पर अस्पताल परिसर के मर्च्युरी में ही शवों का पोस्टमार्टम शुरु कराया गया हांलाकि खबर लिखे जाने तक पीएम करने वाले डॉक्टर मर्च्युरी में पीएम के लिए जा चुके थे और अस्पताल परिसर में पीएम को लेकर बात बाहर आने पर शवों को पीएम हाउस तक ले जाने की व्यवस्था की जाने लगी।इससे आप समझ सकते हैं कि जशपुर जिले में स्वास्थ्य विभाग की लचर व्यवस्था किस कदर मुंह चिढ़ा रही है।अब तक जिम्मेदारों पर कोई कार्यवाही नहीं हुई है।

देखिए वीडियो

मौके पर दोनों मृतकों के परिजनों ने धरना देते हुए स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।परिजनों का कहना है कि स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदार अधिकारी की कोई जवाबदेही नहीं हैं और यहां शव वाहन मौके पर नहीँ है।

जनप्रतिनिधि अनिल जायसवाल, मुकेश शर्मा समेत हरीश बारीक के साथ परिजन अस्पताल के बाहर धरने पर बैठ गए और शासन के विरुद्ध नारेबाजी करने लगे।उनकी मांग है कि जब तक स्वास्थ्य विभाग की लचर व्यवस्था को दुरुस्त कर गैरजिम्मेदार बीएमओ को नहीँ हटाया जाता वे धरना जारी रखेंगे।

स्थानीय पुलिस ने शव पंचनामा पहले ही तैयार कर लिया था वहीं पीएम करने वाले डॉक्टर जयंत भगत भी मौके पर मौजूद थे।शव को पीएम हाउस तक लेजाने के लिए स्वास्थ्य विभाग शव वाहन की व्यवस्था नहीं कर सका।

अंततः एसडीओपी अलीम खान, तहसीलदार अविनाश चौहान व टीआई एसआर भगत मौके पर पंहुचे और मर्च्युरी में ही तत्काल पीएम की कार्यवाही शुरु कराते हुए मामला शांत किया।फिलहाल खबर लिखे जाने तक भी शव वाहन की व्यवस्था नहीँ हुई है।स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ परिजन लगातार व्यवस्था में सुधार की मांग कर रहे हैं।वहीँ नगर पंचायत अध्यक्ष डॉ सीडी बाखला पुरे मामले को लेकर गंभीर बने रहे जिन्होंने पुरी जिम्मेदारी से प्रशासनिक अधिकारीयों व चिकित्सकों से बात कर समस्या के समाधान का प्रयास किया। 

Post a Comment

0 Comments