... BIG ब्रेकिंग :" SDM" ज्योति बबली हटाई गईं,आकांक्षा त्रिपाठी होंगी नई एसडीएम,SDM के विरुद्ध शिकायत करने वाले तहसीलदार की भी छुट्टी,पटवारियों पर हुई कार्यवाही तो संगठन उठाएगा "मुद्दा" और मचेगा "बवाल",इधर नायब तहसीलदार ने ऑडियो क्लिप सुनाकर जांच टीम के सामने दर्ज कराया अपना बयान....और अब....?

BIG ब्रेकिंग :" SDM" ज्योति बबली हटाई गईं,आकांक्षा त्रिपाठी होंगी नई एसडीएम,SDM के विरुद्ध शिकायत करने वाले तहसीलदार की भी छुट्टी,पटवारियों पर हुई कार्यवाही तो संगठन उठाएगा "मुद्दा" और मचेगा "बवाल",इधर नायब तहसीलदार ने ऑडियो क्लिप सुनाकर जांच टीम के सामने दर्ज कराया अपना बयान....और अब....?

जशपुर,टीम पत्रवार्ता,21 मई 2021

जिले के बगीचा तहसील में एसडीएम ज्योति बबली कुजूर पर लगे आर्थिक व मानसिक प्रताड़ना के आरोपों की जांच पूरी नहीं हुई कि शिकायत करने वाले तहसीलदार टीडी मरकाम को पहले ही सजा बतौर ट्रांसफर कर बैकुंठपुर भेज दिया गया है।हांलाकि तहसीलदार ने इसे प्रशासनिक कार्यवाही बताते हुए आदेश का पालन किया है और बैकुंठपुर में उन्होंने पदभार ग्रहण कर लिया है।वहीं जिला प्रशासन ने एसडीएम ज्योति बबली कुजूर को जशपुर एसडीएम बना दिया है वहीं डिप्टी कलेक्टर आकांक्षा त्रिपाठी को बगीचा का नया एसडीएम बनाया गया है।


उल्लेखनीय है कि कलेक्टर ने बगीचा एसडीएम ज्योति बबली कुजूर के खिलाफ तीन सदस्यीय जांच टीम गठित कर जांच शुरु कर दी है।हांलाकि शिकायत कर्ताओं की मांग थी कि एसडीएम को जिला कार्यालय में अटैच करते हुए मामले की निष्पक्ष जांच की जाए।जिसपर कलेक्टर महादेव कावरे ने मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रारंभिक जांच के बाद ही एसडीएम सुश्री ज्योति बबली कुजूर को हटाकर उन्हें जशपुर का एसडीएम बना दिया है।दो दिन पहले जांच टीम जब पटवारियों का बयान लेने बगीचा के रेस्टहाउस पंहुची तो वहां मामले में समझौते का बहुत प्रयास किया गया।

SDM ने गलती मानने से किया इंकार

यहां पटवरियों ने एसडीएम से सीधे कहा मैडम जितनी शिकायत हम लोगों ने की है ईश्वर को साक्षी मानकर आप गलती स्वीकार कर लें हम सब मान जाएंगे।जब हम लोग  आर्थिक व मानसिक रुप से अंततः प्रताड़ित हो गए तो शिकायत की गई।हांलाकि इतना कहने पर भी एसडीम अपनी गलती मानने को तैयार नहीं हुईं।जिंसके बाद धमकी चमकी और मान मनव्वल का दौर चलता रहा और जब बात नहीं बनी तो 2 घंटे बाद शाम को 5 बजे के आसपास जांच टीम ने पटवारियों का बयान लेना शुरु कर दिया।

जांच टीम को सुनाया गया ऑडियो

पुष्ट सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार एसडीएम ज्योति बबली कुजूर के खिलाफ लगे आरोपों की जांच करने बगीचा पंहुचे अपर कलेक्टर आईएल ठाकुर,डिप्टी कलेक्टर आरएन पांडेय व तहसीलदार महेश शर्मा की जांच टीम के सामने नायब तहसीलदार ने भी अपना बयान दर्ज कराया।यहां लगाए गए आरोपों की पुष्टि के लिये एसडीएम से बातचीत का ऑडियो भी जांच टीम को सुनाया गया।जिसके बाद उनका बयान दर्ज किया गया।

एसडीएम पर कई गंभीर आरोप

पिछले चार दिनों से बगीचा का राजस्व अनुविभाग राष्ट्रीय स्तर पर चर्चा में है। यहां की एसडीएम ज्योति बबली कुजूर पर अधीनस्थ राजस्व अधिकारियों ,पटवारियों ने आर्थिक व मानसिक रूप से प्रताड़ित करने सम्बन्धी कई गम्भीर आरोप लगाते हुए 8 बिंदुओं पर मामले की शिकायत की गई है।इन आरोपों में एसडीएम द्वारा राशन,देशी मुर्गा व कबूतर की डिमांड के साथ उच्चाधिकारियों को गिफ्ट देने के नाम पर लाखों की उगाही राष्ट्रीय स्तर पर छाया हुआ है।

प्रदेश सरकार सवालों के घेरे में

बगीचा तहसील के एसडीएम बबली ज्योति कुजूर पर लगाए गए आरोप बेहद गंभीर हैं।जो जिला प्रशासन के साथ सरकार की कार्यप्रणाली पर सीधा सवालिया निशान लगा रहे हैं।जशपुर जिले के कलेक्टर ,कमिश्नर समेत कई बड़े अधिकारी सरकार की बिगड़ती छवि को सुधारने की कवायद में जुटे हुए हैं।हांलाकि अब जिला प्रशासन ने एसडीएम को हटाकर आकांक्षा त्रिपाठी को बगीचा का नया एसडीएम बनाया है।

लंबे समय से कुंठित और अपने को शोषित और अपमानित महसूस करने वाले पटवारियों के सब्र का बांध तब टूट गया जब लॉक डाऊन में आर्थिक परेशानी झेल रहे पटवारियों के सामने डिमांड तेज हो गई।हांलाकि जिला प्रशासन की कार्यवाही का शिकार तहसीलदार टीडी मरकाम हुए हैं।उनसे जब मामले में बात की गई तो उन्होंने कहा शासन का आदेश है इसके परिपालन में वे बैकुंठपुर पंहुच गए हैं।तहसीलदार टीडी मरकाम ने पिछले दिनों मीडिया के सामने एसडीएम पर उन्होंने सीधा आरोप लगाया था।उच्चाधिकारियों के नाम पर एसडीएम ने उन्हें लाखों रुपए इकट्ठा करने का आदेश दिया था।

शिकायतकर्ता के रुप मे तहसीलदार टीडी मरकाम ने अब तक जांच टीम के सामने अपना बयान दर्ज नहीं कराया है लिहाजा उनको अपना बयान दर्ज कराने के लिए आना पड़ेगा।अब देखना होगा कि जांच टीम के सामने क्या बातें सामने आती है और पटवारियों के आरोप किस हद तक पुष्ट सिद्ध होते हैं।

Post a Comment

0 Comments