... BREAKING पत्रवार्ता : "जैश-ए-मोहम्मद"की धमकी से छत्तीसगढ़ में "हाईअलर्ट" दुर्ग समेत देश के कई रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की धमकी..

Recents in Beach


BREAKING पत्रवार्ता : "जैश-ए-मोहम्मद"की धमकी से छत्तीसगढ़ में "हाईअलर्ट" दुर्ग समेत देश के कई रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की धमकी..



रायपुर,टीम पत्रवार्ता, 16 सितंबर 2019

जैश-ए-मोहम्मद की एक चिट्ठी ने रेलवे पुलिस की नींद उड़ा दी है।आतंकवादी संगठन की धमकी से देश मे हड़कंप मच गया है वहीं छत्तीसगढ़ में दुर्ग रेलवे स्टेशन को टारगेट किये जाने पर यहां हाईअलर्ट जारी कर दिया गया है।

आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की ओर से शनिवार शाम को 3.30 बजे डाक के जरिए छत्तीसगढ़ के दुर्ग रेलवे स्टेशन समेत कई रेलवे स्टेशनों को उड़ाने और वहां हमले की धमकी संबंधी पत्र भेजा गया है।पत्रवार्ता को मिली जानकारी के अनुसार इस डाक पत्र को मसूद अहमद नाम के एक शख्स के द्वारा लिखा जाना बताया जा रहा है।

इस धमकी भरे खत में लिखा गया है कि जेहादी हजारों की संख्या में हिंदुस्तान को तबाह कर देंगे।इस चिट्ठी के मिलने के बाद पूरे प्रदेश में हड़कंप मच गया है।चिट्ठी के मुताबिक किसी मसूद ने ये धमकी दी है जिसमें उल्लेखित है कि आगामी 8 अक्टूबर को देश के कई रेलवे स्टेशनों में हमला किया जाएगा।

जैश-ए-मोहम्मद का ये पत्र रोहतक रेलवे स्टेशन के स्टेशन सुप्रीटेंड यशपाल मीणा को मिला है।इस चिठ्ठी मिलने की पुष्टि रायपुर रेल मंडल के आरपीएफ कमांडेंट अनुराग मीणा ने भी की है।

ये लिखा है पत्र में

जैश-ए-मोहम्मद के धमकी भरे पत्र में लिखा है कि हम अपने जिहादियों की मौत का बदला जरुर लेंगे। इस बार भारत सरकार के होश उड़ा देंगे और 8 अक्टूबर को रेलवे स्टेशन और मंदिरों को निशाना यानी हम बम से उड़ा देंगे।

इन रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की धमकी
जैश के कथित एरिया कमांडर की इस चिट्ठी में रेवारी, रोहतक,हिसार,कुरुकक्षेत्र, मुंबई, चेन्नई, बैंगलूरू, जयपुर, कोटा, भोपाल, इटारसी, दुर्ग, राजस्थान, गुजरात, तमिलनाडू, और उत्तर प्रदेश का जिक्र है। हैरानी की बात ये है कि इस चिठ्ठी में कई प्रदेशों के नाम के अलावा कुछ चुनिंदा रेलवे स्टेशनों के नाम भी लिखे गए हैं जिसमें छत्तीसगढ़ के दुर्ग रेलवे स्टेशन का भी एक नाम है।

रायपुर-दुर्ग में हाई अलर्ट जारी
इस चिट्ठी के मिलने के बाद रायपुर और दुर्ग रेलवे स्टेशन में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।आरपीएफ कमांडेंट अनुराग मीणा के मुताबिक दोनों रेलवे स्टेशन के निरीक्षकों को ये सख्त हिदायत दी गई है कि वे सुरक्षा को लेकर किसी भी प्रकार की कोताही न बरते। इसके अलावा दिन में दो बार डॉग स्कावार्ड की टीम को भी रेलवे स्टेशन के चप्पे-चप्पे की जांच करने के निर्देश दिए गए है।वहीं रेलवे स्टेशन में लगे सीसीटीवी कैमरे पर भी पैनी नजर से संदिग्धों पर ध्यान रखने के निर्देश दिए गए है।

अफवाहों पर ध्यान न दें
आरपीएफ के कमांडेंट अनुराग मीणा ने अपील करते हुए कहा है कि यात्री किसी भी प्रकार की अफवाहों पर ध्यान न देंऔर किसी भी संदिग्ध व्यक्ति या सामान के मिलने पर आरपीएफ के टोल फ्री नंबर 182 या पुलिस के टोल फ्री नंबर 112 पर इसकी तत्काल जानकारी दें।

Post a Comment

0 Comments