... BIG BREAKING पत्रवार्ता :"अजीत जोगी पर FIR दर्ज,हालत बिगड़ी,दिल्ली के मेदांता अस्पताल में किया गया भर्ती....

Recents in Beach


BIG BREAKING पत्रवार्ता :"अजीत जोगी पर FIR दर्ज,हालत बिगड़ी,दिल्ली के मेदांता अस्पताल में किया गया भर्ती....




बिलासपुर,टीम पत्रवार्ता,06 सितंबर 2019

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही है।उनके पुत्र अमित जोगी पर  धोखाधड़ी का मामला दर्ज होने व गिरफ्तारी के बाद अब अजीत जोगी पर भी FIR दर्ज कराया गया है।भाजपा नेत्री समीरा पैंकरा ने फर्जी जाति प्रमाण पत्र से चुनाव लड़कर  छल कर उसका दुरुपयोग किये जाने के संबंध में मामला दर्ज कराया है।



उल्लेखनीय है कि छानबीन समिति की रिपोर्ट पर बिलासपुर कलेक्टर को वैधानिक कार्रवाई के लिए अधिकृत किया गया है।जिसके बाद कलेक्टर डॉ संजय अलंग की ओर से तहसीलदार टीआर भारद्वाज ने 29 अगस्त को सिविल लाईन थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है।

बिलासपुर पुलिस ने छत्तीसगढ़ अनुसूचित जाति,अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग सामाजिक प्रास्थिति के प्रमाणीकरण विनियमन अधिनियम 2013 की धारा 10 (1) के तहत अपराध दर्ज किया है।हालांकि जोगी ने इस मामले को हाईकोर्ट में चुनौती दी है।

गौरेला थाने में दर्ज हुई दूसरी FIR
बिलासपुर में छानबीन समिति की FIR के बाद अब भाजपा नेत्री समीरा पैंकरा की शिकायत पर पूर्व मुख्यमंत्री व मरवाही विधायक अजीत जोगी के विरुद्ध आईपीसी की धारा 420,467,468,471 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है।

गौरेला थाना प्रभारी दिनेश कुर्रे ने पत्रवार्ता को बताया कि समीरा पैकरा ने अजीत जोगी के विरुद्ध फर्जी जाति प्रमाण पत्र बनवाने और उसका छलपूर्वक दुरुपयोग करने की शिकायत की है।जिसके तहत मामला पंजीबध्द किया गया है।

समीरा पैंकरा ने पत्रवार्ता से चर्चा में बताया कि उक्त FIR तत्कालीन तहसीलदार पतरस तिर्की के उस शपथ पत्र के आधार पर कराया गया है,जिसमें कि पतरस तिर्की द्वारा यह दावा किया गया है कि उनके द्वारा जोगी का प्रमाणपत्र कभी जारी नहीं किया गया,जो उनके हस्ताक्षर हैं वे भी उनके नहीं हैं।



देर रात बिगड़ी जोगी की तबियत
गुरुवार को मामला दर्ज होने के बाद देर रात अजीत जोगी की तबियत अचानक बिगड़ गयी। देर रात उन्हें गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है।शाम से उनकी तबियत बिगड़नी शुरू हुई,जिसके बाद उन्होंने डॉक्टरी सलाह ली,लेकिन देर रात उनकी तबियत ज्यादा ही खराब हो गयी। सीने में हल्के दर्द की शिकायत व सांस लेने में तकलीफ होने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अजीत जोगी के करीबियों ने पत्रवार्ता को बताया कि डॉक्टरों ने उन्हें स्पेशल ऑब्जेर्वशन में रखा है।जहां उनकी स्थिति स्थिर बनी हुई है।


फिलहाल जोगी परिवार की मुश्किल कम होने के बजाए बढ़ती जा रही है।अजीत जोगी ने अपना पक्ष रखते हुए प्रेस नोट जारी किया है जिसमें उन्होंने बताया है कि तहसीलदार पतरस टर्की द्वारा पूर्व में शपथ पात्र देकर उनके जाति प्रमाण पात्र को सही बताया गया है।ऐसे में उन्होंने तहसीलदार पर कार्रवाई की बात कही है 


Post a Comment

0 Comments