... BIG BREAKING : "प्रदेश में खनिजों के खनन पर "सरकार" का रुख साफ़,"मंत्री अमरजीत भगत व पूर्व मंत्री गणेश राम भगत आमने सामने,अमरजीत की "दो टूक" "बिना खनिजों के दोहन से कैसे चलेगी प्रदेश की सरकार" तो "गणेश राम भगत" की चेतावनी " पहले जान जाएगी बाद में होता रहेगा बाक्साईड खनन".पढ़ें पूरी खबर सिर्फ पत्रवार्ता पर .. ?

Recents in Beach


BIG BREAKING : "प्रदेश में खनिजों के खनन पर "सरकार" का रुख साफ़,"मंत्री अमरजीत भगत व पूर्व मंत्री गणेश राम भगत आमने सामने,अमरजीत की "दो टूक" "बिना खनिजों के दोहन से कैसे चलेगी प्रदेश की सरकार" तो "गणेश राम भगत" की चेतावनी " पहले जान जाएगी बाद में होता रहेगा बाक्साईड खनन".पढ़ें पूरी खबर सिर्फ पत्रवार्ता पर .. ?




जशपुर 17 अगस्त 2019 (पत्रवार्ता)छत्तीसगढ़ शासन के खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण, योजना आर्थिक एवं संस्कृति विभाग के मंत्री व जशपुर जिले के प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत ने प्रदेश में खनिजों के खनन को लेकर सरकार का रुख साफ़ कर दिया है।जिससे एक बार फिर से खनन के मुद्दे पर हलचल पैदा हो गई है


मंत्री अमरजीत भगत ने बाक्साईड खनन के मुद्दे पर जशपुर में पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए दो टूक शब्दों में कहा है -

स्पष्ट कर रहा हूँ कि एकदम माईनिंग नहीं होगा कहना उचित नहीं है,यहाँ के संसाधन, खनिज सम्पदा का अगर दोहन नहीं होगा तो राजस्व आपके पास कहाँ से आएगा,प्रदेश की सरकार और जितने विकास के कार्य हैं वे कहाँ से चलेंगे

मंत्री अमरजीत भगत के इस बयान के बाद जशपुर के पाठ व खुडिया ईलाके में जबरदस्त हलचल हैआपको बता दें कि छत्तीसगढ़ गठन के बाद ही जोगी की पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार ने जशपुर में बाक्साईड,कोयला व अन्य खनिजों के खनन के लिए 5 खदानों को हरी झंडी देते हुए खनन के लिए पट्टा जारी किया था जिसके बाद बीजेपी शासन काल में इस पर विराम लगा हुआ था


पुनः कांग्रेस की सरकार आते ही खनन के मुद्दे पर सियासत तेज हो गई है एक ओर कांग्रेस सरकार के मंत्री इसे सरकार चलाने व विकास कार्यों के लिए  राजस्व की व्यवस्था बता रहे हैं वहीँ विपक्ष इसे हर हाल में रोकने की जोर जुगत में लगा हुआ है  

15 अगस्त को जशपुर में पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए जशपुर जिले के प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि

कांग्रेस का चुनाव से पूर्व जो बात घोषणा पत्र में कही गई थी उसपर वे अटल हैं,नियम प्रक्रिया भी कोई चीज है उसे एकाएक कोई नहीं बदल देगा।जिसमें उल्लेख है कि किसी भी ग्राम सभा या ग्राम पंचायत के बिना अनुमति के माईनिंग नहीं किया जाएगा।अब ग्राम पंचायत पहले कहीं की सहमति दे दिए होंगे जिसके आधार पर लीज ग्रांट हुआ होगा तो आप हम चाह के भी उसको नहीं बदल सकते

अगर हम कुछ करेंगे तो हमारे ऊपर कोर्ट है वह न्यायलय से स्टे ले आएगा।हमने इकाई माना है ग्राम सभा को वे चाहें तो माईनिंग कराएं न चाहें तो न कराएं उनके ऊपर किसी का जोर जबरदस्ती नहीं चलेगा  


इसके साथ ही जशपुर जिले के प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि पूर्व में यदि ग्राम पंचायत से प्रस्ताव लेकर लीज ग्रांट की गई है और आज बोल रहे हैं कि वह गलत है तो उसके ऊपर कोर्ट है  उसे विधायक,सांसद,मंत्री के कहने से एकाएक व्यवस्था परिवर्तित नहीं की जा सकती 

देखें VIDEO अमरजीत ने क्या कहा 




फिलहाल मंत्री अमरजीत भगत ने खनन पर सरकार का रुख साफ कर दिया है कि ग्राम पंचायतों के प्रस्ताव के बाद ही विधि सम्मत तरीके से इसे शुरु किया जाएगा।इसके साथ इ उन्होंने पर्यटन को बढ़ावा देनें की बात कही और सरगुजा से लेकर जशपुर के पर्यटन स्थलों को चिन्हित कर एक सर्किट बनाने की बात कही ताकि लोग एक साथ जशपुर के पर्यटन स्थलों के साथ सरगुजा के पर्यटन स्थलों में घूम सकें।यहाँ का प्राकृतिक वातावरण बहुत ही अच्छा है और यहाँ पर्यटन की असीम संभावनाएं हैं

बीजेपी शासनकाल के पूर्व मंत्री गणेश राम भगत ने खनन के मुद्दे पर सरकार को घेरा है उन्होंने दो टूक शब्दों में कहा है कि 


पहले जान जाएगी बाद में बाक्साईड होता रहेगा,जनता जो चाहती है वह होगा,कांग्रेस का काम है जनता को तोड़ना,कांग्रेस की इस नीति को हम सफल होने नहीं देंगे  

देखिए पूर्व मंत्री गणेश राम भगत का बयान





इससे जुड़ी खबर 

"खुड़िया की धरती में खनन...? तो क्या उजड़ जाएँगे जशपुर..के इतने गांव

Post a Comment

0 Comments