.

VIDEO पत्रवार्ता:- किसके....? "जूदेव " राजपरिवार की दो "टूक " "हम सभी बीजेपी के सदस्य " "संगठन सर्वोपरि "



जशपुर(पत्रवार्ता) लोगों के दिलों में राज "जूदेव" इन दिनों जशपुर विधानसभा सीट पर पोस्टर विवाद को लेकर घिरे हुए हैं। ..जशपुर में जूदेव के पोस्टर को लेकर जमकर घमासान मचा हुआ है।दरअसल जशपुर विधानसभा सीट जूदेव के अभेद गढ़ के रुप जाना जाता है।जहां जूदेव के नाम पर बीजेपी जीत दर्ज कराती आई है।इस विधानसभा चुनाव में राजपरिवार के बेहद करीबी माने जाने वाले प्रदीप नारायण सिंह बीजेपी से बगावत कर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं और खास बात यह कि वे अपने को जूदेव का धर्मपुत्र बताकर स्वर्गीय दिलीप सिंह जूदेव की तस्वीर लगाकर चुनाव प्रचार में लगे हुए हैं।

जिससे यहां का सियासी माहौल बेहद गर्म हो गया है और इस पोस्टर विवाद को लेकर अब राजपरिवार मुखर होकर इसका विरोध कर रहा है। वहीं दिलीप सिंह जूदेव के पुत्र प्रबल प्रताप सिंह जूदेव एवं उनके भतीजे राज्यसभा सांसद रणविजय सिंह देव समेत पूरा राजपरिवार निर्दलीय प्रत्याशी के खिलाफ मैदान में उतर गया है।


जशपुर विधानसभा सीट पर जहां बीजेपी से बगावत कर निर्दलीय प्रत्याशी बीजेपी का समीकरण बिगाड़ने में लगे हुए हैं वहीं स्व दिलीप सिंह जूदेव के पोस्टर के साथ निर्दलीय प्रत्याशी के प्रचार को गलत बताते हुए अब राजपरिवार भी सामने आ गया है।स्वर्गीय दिलीप सिंह जूदेव के बेटे प्रबल प्रताप सिंह जूदेव ने कहा संगठन सर्वोपरि है वहीं उन्होंने मजा चखाने की बात कहते हुए कांग्रेस पर बरगलाकर निर्दलीय उम्मीदवार खड़े किए जाने का आरोप लगाया।


प्रबल ने कहा कि जो लोग उनके पिता स्व दिलीप सिंह जूदेव के नाम पर वोट मांग रहे हैं और बीजेपी के खिलाफ जो लोग गए हैं उन्हें वोट न दें।उन्होंने अपने पिता को बीजेपी के लिए पूरा जीवन कार्य करने वाला बताया और कहा कि जो बीजेपी से बगावत कर उनके पिता के नाम पर वोट मांग रहे हैं वह सरासर गलत है।

जशपुर में जूदेव के पोस्टर का विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा।अब राजपरिवार के लोग खुद क्षेत्र में जाकर स्थिति सम्हालने में लगे हुए हैं। राजपरिवार ने मुखर होकर निर्दलीय प्रत्याशी प्रदीप नारायण सिंह द्वारा उनके पिता के पोस्टर का दुरुपयोग किये जाने का प्रतिकार किया है।

राजा  रणविजय सिंहदेव ने क्या कहा आप भी सुनें 
वीडियो:-


जूदेव के पोस्टर को लेकर जशपुर की सियायत इस कदर गरमा गई है कि अब यह सवाल उठने लगा है आखिर किसके हैं जूदेव...? वहीं कांग्रेस नेता टीएस सिंहदेव ने खुड़िया दीवान के सवाल पर कहा कि वे कांग्रेस की मदद कर रहे हैं।

इस मामले पर जहां बीजेपी व राजपरिवार जूदेव के पोस्टर वार पर मुखर होकर चुनाव प्रचार में लगी है वहीं निर्दलीय प्रत्याशी प्रदीप नारायण सिंह अपने को स्व दिलीप सिंह जूदेव का दत्तक पुत्र बता रहे हैं।उन्होनें कहा कि भाजपा ने उनके पिताजी की फ़ोटो प्रचार पोस्टर में नहीं लगाई इसलिए वे अपने प्रचार में उनकी फोटो लगाकर चुनाव लड़ रहे हैं।


फिलहाल यहां जूदेव के पोस्टर विवाद से रियासत की सियायत उफान पर है।अब देखना दिलचस्प होगा कि जशपुर की राजनीति में जूदेव के पोस्टर विवाद का क्या और कितना असर पड़ता है।

Share on Google Plus

About patravarta.com

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 Comments:

Featured Post

बड़ी खबर : जब उड़नदस्ता टीम ने छात्राओं के उतरवाए कपड़े...? ..और फांसी के फंदे पर झूल गई 10 वीं की छात्रा।

जशपुर(पत्रवार्ता) बोर्ड परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए जांच के नाम पर छात्र छात्राओं के कपड़े उतरवाकर जांच किए जाने का मामला सामने आया ...