... खबर चुनावी:चुनाव से पहले ही तखतपुर में भाजपा को हार का डर सताया,जातिगत वोटों का ध्रुवीकरण करने पार्टी के संयोजक को ही निर्दलीय प्रत्याशी बनाकर उतारा-आशिष सिंह

Recents in Beach


खबर चुनावी:चुनाव से पहले ही तखतपुर में भाजपा को हार का डर सताया,जातिगत वोटों का ध्रुवीकरण करने पार्टी के संयोजक को ही निर्दलीय प्रत्याशी बनाकर उतारा-आशिष सिंह


बिलासपुरपत्रवार्ता.कॉम)तखतपुर विधानसभा में चुनाव से पहले ही भाजपा को हार का डर सताने लगा है। जातिगत वोटों का ध्रुवीकरण करने भाजपा ने अपने पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता व संयोजक को ही बतौर निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव में खड़ा कर दिया है। ये कहना है काँग्रेस के वरिष्ठ नेता आशिष सिंह ठाकुर का। 

दरअसल तखतपुर विधानसभा में चुनाव लड़ने भाजपा- कांग्रेस सहित अन्य पार्टियों व निर्दलीय को मिलाकर 26 प्रत्याशियों ने नामाँकन भरा है। इनमें से 10 अनुसूचित जाति के प्रत्याशी हैं। जिनमें से एक निर्दलीय प्रत्याशी साधेलाल हैं जो चुनाव लड़ रहे हैं। इसे लेकर काँग्रेस के सीनियर नेता आशीष सिंह का कहना है कि साधेलाल भाजपा का सक्रिय नेता व पार्टी संयोजक हैं। ऐसे में उनका निर्दलीय चुनाव फॉर्म भरना चुनाव के पहले ही भाजपा का हार से डरना है। 

आशिष ने बताया कि तखतपुर क्षेत्र के सोनगंगा, सराकांपा, महुआकांपा सहित अन्य जगहों में जातिगत वोटों के ध्रुवीकरण के लिए भाजपा ने ऐसा कारनामा किया है। जानबूझकर अनुसूचित जाति के 6 प्रत्याशियों को खड़ा किया गया है। उन्होंने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि भाजपा अपने हार के डर से घबरा गयी है। भाजपा जानती है कि अनुसूचित जाति के ज्यादातर मतदाता कांग्रेस के समर्थन में वोट डालने जाते हैं। उन्हें बांटने षडयंत्र की राजनीति भारतीय जनता पार्टी तखतपुर विधानसभा के चुनाव में कर रही है। 

गौरतलब है कि वर्तमान में आशीष सिंह ठाकुर की पत्नी रश्मि सिंह को कांग्रेस ने तखतपुर विधानसभा से प्रत्याशी बनाया है।

Post a Comment

0 Comments