Recents in Beach


ब्रेकिंग पत्रवार्ता:- काली कमाई के 10 लाख रुपये जप्त,पत्थलगांव पुलिस की कार्रवाई।


पत्थलगांव(प्रदीप ठाकुर,पत्रवार्ता) पत्थलगांव पुलिस ने बीती रात एक ट्रक से 10 लाख रुपए नगद बरामद किए हैं। ट्रक अंबिकापुर से कोयला भरकर तमनार की ओर जा रहा था। 

मुखबिर से मिली सूचना पर पुलिस ने ट्रक को बीटीआई चौक के पास रोककर तलाशी ली। तलाशी में ट्रक के केबिन के रैक में रखे एक डिब्बे से पुलिस ने रूपए बरामद किए। पुलिस की सूचना पर स्थैतिक दल भी मौके पर पहुंचा और आगे की कार्रवाई पूरी की। ट्रक को रूपए समेत जब्त करते हुए चालक को हिरासत में ले लिया गया है। 

चुनावी आचार संहिता के मद्देनजर 50हजार रू से अधिक की राशि नगद रूप में ले जाना प्रतिबंधित है। इसके लिए निर्वाचन आयोग द्वारा उड़नदस्ता और स्थैतिक निगरानी दल बनाया गया है जो अलग-अलग रास्तों पर वाहनों की आवाजाही पर नजर रखता है।

एसडीओपी अभिषेक झा ने बताया कि सोमवार की रात थाना प्रभारी ओमप्रकाश ध्रुव को मुखबिर के माध्यम से सीतापुर की ओर से पत्थलगांव की ओर आ रहे ट्रक क्रमांक सीजी 13 वाई 7336 में बड़ी राशि होने की सूचना मिली। सूचना पर पुलिस सतर्क हो गई। 

थाना प्रभारी ओमप्रकाश ध्रुव के मार्गदर्शन में एसआई साहू,एएसआई जीवनाथ गिरी समेत पुलिस दल बीटीआई चौक पर तैनात कर दिया गया। पुलिस दल द्वारा यहां पहुंचते ही ट्रक को रोककर ट्रक को रोक लिया गया। इसमें कोयला लदा हुआ था। पुलिस की पूछताछ में चालक ने अपना नाम फिरोज खान पिता जमील अहमद,23 वर्ष निवासी अंबिकापुर होना बताया है। 

वह अंबिकापुर से कोयला लेकर तमनार जा रहा था। पुलिस द्वारा ली गई तलाशी में ट्रक के केबिन के अंदर एक रैक में रखे गत्ते के डिब्बे में रूपए रखे हुए पाए गए। रूपए पांच-पांच सौ के नोट की शक्ल में थे। थाना प्रभारी श्री ध्रुव ने स्थैतिक निगरानी दल को इसकी सूचना दी। सूचना पर स्थैतिक निगरानी दल मौके पर पहुंचा और कार्रवाई शुरू की।

निगरानी दल की जांच में बरामद रकम 10 लाख रू पाई गई। स्थैतिक दल को दिए अपने बयान में चालक ने ट्रक मालिक द्वारा उसे रूपए दिए जाने की बात कही है। ट्रक अंबिकापुर निवासी राजेश अग्रवाल की बताई जा रही है। चालक के मुताबिक राजेश ने गत्ते के डिब्बे में रखे हुए रूपए उसे दिए और तमनार में इसे लेने के लिए आने वाले व्यक्ति को देने को कहा था।

डिब्बे में कितनी रकम थी इसके बारे में कोई जानकारी होने से उसने इंकार किया है। पुलिस की निगरानी में ट्रक को थाने लाया गया। ट्रक को मय रकम के जब्त कर इसे पुलिस की अभिरक्षा में रखा गया है। पुलिस द्वारा मामले की जांच की जा रही है।

यहां बताना लाजिमी होगा कि ब्लैक मनी के लेन देन के लिए कोयला व्यापारी इसी तरीके का उपयोग हमेशा करती हैं।अब देखना दिलचस्प होगा कि पत्थलगांव पुलिस इस मामले में क्या कड़ी कार्रवाई करती है।

Post a Comment

0 Comments