देखें वीडियो:कॉन्ग्रेसियों पर लाठीचार्ज,न्यायधानी से लेकर राजधानी तक सियासत गरम,पीसीसी चीफ बिलासपुर पहुँचे.


बिलासपुर(पत्रवार्ता.कॉम)बिलासपुर में काँग्रेसियों पर लाठीचार्ज होने के बाद बिलासपुर से लेकर रायपुर तक सियासत गरमा गयी है। पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने पुलिस कार्रवाई की निंदा करते हुए दोषियों पर तत्काल कार्रवाई की मांग की है। घटना के बाद कॉन्ग्रेसियों का आक्रोश उबाल पर है। 

दरअसल जिला व शहर काँग्रेस ने शहर की दुर्दशा व मंत्री द्वारा काँग्रेसियों को कचरा कहने के विरोध में मंत्री अमर का बंगला घेरने का एलान किया था। मंगलवार को भारी संख्या में कांग्रेसी काँग्रेस भवन से मंत्री बंगला घेरने निकले। इस दौरान पुलिस को चकमा देते हुए कांग्रेसी मंत्री बंगले तक पहुंच गए। जहां जमकर नारेबाजी करते हुए विरोध में कांग्रेसियों ने मंत्री बंगले के भीतर कचरा फेंक दिया। जिसके बाद प्रदर्शनकारियों व पुलिस के बीच जमकर झड़प हुई। पुलिस कॉन्ग्रेसियों को गिरफ्तार करने लगी, लेकिन इस बीच कांग्रेसी प्रदर्शन कर वापस काँग्रेस भवन पहुंच गए। जहां उनके पीछे - पीछे पुलिस भी दल-बल के साथ प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार करने काँग्रेस भवन पहुंच गयी। लेकिन इस बीच कांग्रेसीयो ने गिरफ्तारी देने से इंकार कर दिया। जिसके बाद पुलिस ने लाठी चार्ज करते हुए काँग्रेस भवन के भीतर घुसकर कॉन्ग्रेसियों को घसीट- घसीट कर पीटा। पुलिस के एकाएक कार्रवाई से हड़कम्प मच गया, इस दौरान कई कॉन्ग्रेसियों पर पुलिस ने जमकर लाठी बरसाया। लाठीचार्ज में दर्जन भर कांग्रेसी घायल भी हुए हैं जिन्हें ईलाज के लिए सिम्स में भर्ती किया गया है। बाकी कॉन्ग्रेसियों को गिरफ्तार कर कोनी थाने ले जाया गया है। 

बहरहाल कॉन्ग्रेसियों पर लाठीचार्ज होने के बाद न्यायधानी से लेकर राजधानी तक सियासत गरमा गयी है। पीसीसी चीफ भूपेश बघेल बिलासपुर पहुँच गए हैं। इससे पहले उन्होंने रायपुर में मीडिया से बात करते हुए पुलिस बर्बरता की निंदा व तत्काल दोषियों पर कार्रवाइ की मांग की है। 


Comments

Popular Posts

"जशपुरिया मॉडल दिल्ली में हुई हिट",मॉडल "रेने" का वह गाँव जहाँ से शुरू हुई संघर्ष की कहानी,पत्रवार्ता की टीम पंहुची रेने के घर

BREAKING(पत्रवार्ता)शासकीय महिला कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर,छग में भी लागू होगा चाइल्ड केयर लीव,हाईकोर्ट ने दिया आदेश..

बड़ी खबर : जब उड़नदस्ता टीम ने छात्राओं के उतरवाए कपड़े...? ..और फांसी के फंदे पर झूल गई 10 वीं की छात्रा।