... विरोध :"ब्लाक अध्यक्ष" की नियुक्ति के बाद मचा "बवाल","ब्लॉक अध्यक्ष हटाओ"के नारे के साथ दिग्गजों की बैठक....ब्लॉक अध्यक्ष रामेश्वर गुप्ता ने कही ये बात..?

विरोध :"ब्लाक अध्यक्ष" की नियुक्ति के बाद मचा "बवाल","ब्लॉक अध्यक्ष हटाओ"के नारे के साथ दिग्गजों की बैठक....ब्लॉक अध्यक्ष रामेश्वर गुप्ता ने कही ये बात..?


जशपुर,टीम पत्रवार्ता,16 दिसम्बर 2021

By योगेश थवाईत

जशपुर जिले के बगीचा में कांग्रेस के ब्लाक अध्यक्ष की मनमानी नियुक्ति को लेकर अब कार्यकर्ता लामबंद होते नजर आ रहे हैं। कार्यकर्त्ताओं की सहमति के बिना ब्लॉक अध्यक्ष थोपे जाने से विरोध अब मुखर हो गया है।हाल ही में कांग्रेस ने सभी जिले में ब्लॉक अध्यक्षों की नियुक्ति की है। जिले के बगीचा ब्लॉक में रामेश्वर गुप्ता को अध्यक्ष बनाया गया।

ब्लॉक के दिग्गज कांग्रेसी नेता व आला कमान के इस फैसले से कार्यकर्ता असहमति जता रहे थे।घोषणा के तुरंत बाद से ही राजनैतिक गलियारों में सुगबुगाहट शुरू हो गई और अब यह विरोध खुल कर सामने आ गया है।

उल्लेखनीय है कि बगीचा ब्लॉक के पूर्व ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष प्रमोद गुप्ता थे जिनके मार्गदर्शन में लम्बे समय बाद नगर पंचायत और जनपद पंचायत में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष सीट पर कांग्रेस काबिज हुई है। विधानसभा चुनाव में भी प्रमोद गुप्ता  अपना लोहा मनवा चुके थे। 

ऐसे में अचानक   ब्लॉक अध्यक्षों की नियुक्ति की घोषणा हुई।कांग्रेस कार्यकर्त्ता और विधायक के क़रीबी बताए जाने वाले रामेश्वर गुप्ता को ब्लॉक अध्यक्ष नियुक्त किया गया है।जिसके विषय में बगीचा के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं से पूर्व में कोई विचार विमर्श नहीं किया गया था।वहीं ब्लाक अध्यक्ष के लिए बुधराम वनवासी समेत अन्य नामों के प्रस्ताव भेजे जाने की खबर थी।

नियुक्ति को अभी कुछ ही दिन हुए हैँ और ऐसे में ब्लॉक अध्यक्ष रामेश्वर गुप्ता दो तीन लोगों को लेकर  किसान आंदोलन में शामिल होने रायपुर कूच कर लिये जिसके बारे में अन्य कार्यकर्त्ताओं को कोई जानकारी नहीं दी गई ना ही उन्हें साथ चलने कहा गया। इसके बारे में भनक लगते ही सभी कांग्रेसी एकजुट हो गए और गुप्त बैठक कर अध्यक्ष को हटाने के लिये जद्दोजहद कर रहे हैं।

वरिष्ठ नेताओं का कहना है कि जो व्यक्ति संगठन को साथ लेकर नहीं चल सकता वो अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी लेने की योग्यता नहीं रखता है। किसी ऐसे व्यक्ति को यह जिम्मेदारी दी जाए जो सक्षम हो और संगठन को मजबूती प्रदान कर सके।

बगीचा की राजनीती हमेशा से ही प्रदेश स्तर का ध्यान आकर्षण करती है।सूत्रों के अनुसार बगीचा के सभी वरिष्ठ कार्यकर्त्ता ब्लॉक अध्यक्ष के विरोध में अब जल्द ही प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम से मुलाक़ात करने रायपुर जा सकते हैँ।उनसे मिलकर जमीनी स्तर की समस्या से अवगत कराएँगे साथ ही ब्लॉक अध्यक्ष बदलने की मांग रखेंगे।

सत्ता के 2 साल गुजरने को हैं ऐसे में अब आगामी चुनाव के मद्देनजर कार्यकर्ताओं को एकजुट करने की आवश्यकता है।फिलहाल नवनियुक्त ब्लाक अध्यक्ष रामेश्वर गुप्ता की कार्यप्रणाली को लेकर कई सवालिया निशान लग रहे हैं।

मामले में पत्रवार्ता ने जब रामेश्वर गुप्ता से बात की तो उनका कहना था कि उन्हें नई जिम्मेदारी मिली है,संगठन से ही सीखने का मौका मिला है।कार्यकर्ताओं की हर समस्या का समाधान किया जाएगा।संगठन की मजबूती कार्यकर्ताओं से है उन्हें बिल्कुल नजरअंदाज नहीं किया जाएगा।आपसी सामंजस्य स्थापित कर एकजुटता से मिलकर काम करेंगे।


Post a comment

0 Comments