... EXCLUSIVE पत्रवार्ता :- अंततः प्रशासनिक मान मनव्वल के बाद माने "अजीत जोगी" ,"मिला कमरा " पूर्व CM ने कहा "भूपेश मुझसे डरते हैं " यहाँ रह गया तो .......? VIDEO

EXCLUSIVE पत्रवार्ता :- अंततः प्रशासनिक मान मनव्वल के बाद माने "अजीत जोगी" ,"मिला कमरा " पूर्व CM ने कहा "भूपेश मुझसे डरते हैं " यहाँ रह गया तो .......? VIDEO




दंतेवाड़ा,टीम पत्रवार्ता,14 सितम्बर 2019

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में पूर्व मुख्यमंत्री  व  जनता काँग्रेस पार्टी के सुप्रीमो अजीत जोगी को ठहरने के लिए सरकारी कमरा नहीं मिला जिसके बाद अजीत जोगी दंतेवाड़ा कलेक्टर बंगले के सामने ही धरने पर बैठ गए।उन्होंने कहा भूपेश मुझसे डरते हैं उनको लगता है कि यहाँ रह गया तो उनकी हार सुनिश्चित है।उन्होंने कहा पहले तो उनके बेटे अमित जोगी को अरेस्ट कर लिया गया ताकि वह यहाँ न पंहुच पाए।अब मुझे भी यहाँ से निकालना चाहते हैं  



अजीत जोगी ने कलेक्टर पर आरोप लगाते हुए कहा कि 

कलेक्टर के आदेश पर उन्हें सरकारी गेस्ट हाउस में रुकने के लिए कमरा नहीं दिया गया जबकि एनएमडीसी के सीएमडी ने उन्हें बताया कि तीन कमरे खाली हैं पर उन्हें कलेक्टर ने देने से मना किया है  





जिसके बाद अजीत जोगी कलेक्टर बंगले के बाहर ही अपने ट्रेवलर वाहन में धरने पर बैठ गए उनका कहना है कि उन्हें यह जगह अच्छी लगी सुरक्षित भी है लिहाजा वे पांच दिन अब यहीं बिताएंगे।आपको बता दें कि अजीत जोगी दंतेवाड़ा उपचुनाव में प्रचार के लिए दंतेवाड़ा पहुंचे हुए हैं।मामले की खबर लगते ही प्रशासनिक महकमे में हडकंप मच गया और स्थानीय प्रशासनिक अमले ने जोगी को मनाना शुरु कर दिया।

VIDEO अजीत जोगी ने कहा



वहीं दंतेवाड़ा कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने पत्रवार्ता से बताया कि उपचुनाव के चलते जिले में आचार संहिता लागू हैजिसके चलते Z और Z+ सिक्योरिटी प्राप्त नेताओं को ही सरकारी गेस्ट हाउस में कमरा दिया जा सकता है।पूर्व सीएम अजीत जोगी को ऐसी सुरक्षा प्राप्त नहीं है इसलिए उन्हें गेस्ट हाउस में कमरा नही दिया गया

वीडियो- कलेक्टर ने कहा



फिलहाल प्रशासनिक अमला पूर्व सीएम अजीत जोगी के धरने में बैठने से सजग हो गया और काफी मान मनव्वल के बाद उन्हें ट्रांजिट हास्टल में कमरा उपलब्ध कराया गयाअब वे सड़क पर रात नहीं गुजारेंगे।फिलहाल कमरा न दिए जाने से पूर्व सीएम अजीत जोगी ने सरकार पर कई गंभीर सवाल उठाया है

Post a Comment

0 Comments