... BREAKING पत्रवार्ता : छत्तीसगढ़ में "आश्रम अधीक्षिका और उसके पति की वहशियाना करतूत "नवजात को भी नहीं बख्शा,घसीटते हुए निकाला बाहर और खुले आसमान के नीचे .......? राज्यमंत्री तक पंहुचा मामला,जिला कलेक्टर ने की कड़ी कार्रवाई।

BREAKING पत्रवार्ता : छत्तीसगढ़ में "आश्रम अधीक्षिका और उसके पति की वहशियाना करतूत "नवजात को भी नहीं बख्शा,घसीटते हुए निकाला बाहर और खुले आसमान के नीचे .......? राज्यमंत्री तक पंहुचा मामला,जिला कलेक्टर ने की कड़ी कार्रवाई।





कोरिया(पत्रवार्ता) प्रदेश के कोरिया जिले में आश्रम अधीक्षिका और उसके पति द्वारा वहां कार्यरत सहायिका को घसीटते हुए आश्रम से जबरदस्ती बाहर निकालने का मामला सामने आया है। महिला के नवजात शिशु को भी आश्रम से बाहर जमीन पर छोड़ा दिया गया।इस वहशियाना करतूत की खबर लगते ही जिला प्रशासन ने तत्काल आश्रम अधीक्षिका समेत उसके पति सहायक शिक्षक को भी निलंबित कर दिया गया है।

देखें Video


मामला है जनकपुर के बड़वाही कन्या आश्रम का जहां बरसात के मौसम में आश्रम अधीक्षिका और उसके पति रंगलाल सहायक शिक्षक एलबी द्वारा आश्रम सहायिका को जबरन घसीटते हुए अमानवीय तरीके से आश्रम से बाहर निकाल दिया गया।



इतना ही नहीं सहायिका के नवजात शिशु को भी इन्होंने नहीं बख्शा और बारिश के मौसम में जमीन पर बाहर छोड़ दिया।सहायिका का समान आश्रम की लड़कियों से खाली करवाया गया।जो बाहर ही खुले आसमान के नीचे पड़ा रहा।

पत्रवार्ता को मिली जानकारी के अनुसार भरतपुर विकासखंड के जनकपुर के बड़वाही कन्या आश्रम में हुए इस अमानवीय घटना की जानकारी राज्यमंत्री गुलाब कामरो को दी गई जिसपर  उन्होंने मामले में संज्ञान लेते हुए तत्काल जिला प्रशासन को कार्रवाई के निर्देश दिए।

मामले की गंभीरता को देखते हुए जिले के कलेक्टर ने आश्रम अधीक्षिका समेत उसके पति सहायक शिक्षक एलबी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।वहीं आश्रम अधीक्षिका के पति के विरुद्ध भी पुलिस मे प्रकरण दर्ज कराए जाने की खबर है।

Post a Comment

0 Comments