... ब्रेकिंग पत्रवार्ता : स्कूल में दाखिला चाहिए तो लाना होगा "दारु और मुर्गा",जशपुर शिक्षा विभाग का बड़ा कारनामा,कलेक्टर से जब हुई शिकायत तो मच गया हड़कंप,जानें क्या है पूरा माजरा...?

Recents in Beach


ब्रेकिंग पत्रवार्ता : स्कूल में दाखिला चाहिए तो लाना होगा "दारु और मुर्गा",जशपुर शिक्षा विभाग का बड़ा कारनामा,कलेक्टर से जब हुई शिकायत तो मच गया हड़कंप,जानें क्या है पूरा माजरा...?


सवालों के घेरे में जशपुर का शिक्षा विभाग

जशपुर(पत्रवार्ता) छत्तीसगढ़ के जशपुर में अगर आपको सरकारी स्कूल में दाखिला लेना है तो "दारु मुर्गा" की व्यवस्था के साथ आना होगा। दरअसल जशपुर का लचर और लापरवाह शिक्षा विभाग अपने कारनामों से सुर्खियां बटोर रहा है।वहीं जिले के शिक्षा विभाग के आला अधिकारी अपने कारनामों को छिपाते नजर आ रहे हैं।

जी हाँ ताजा मामला है जशपुर के मनोरा विकासखंड के आस्ता शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल का जहां कक्षा 10 वीं में प्रवेश दिए जाने के एवज में छात्र और उसके परिजन से मुर्गा और दारू की मांग की गई। मामले की शिकायत लेकर परिजन शाला विकास समिति के सदस्य के साथ कलेक्टर जनदर्शन में पहुंचे। कलेक्टर के सामने शिकायत पहुंचते ही जनदर्शन में मौजूद अधिकारी भी दंग रह गए। जनदर्शन के बाद इस मुद्दे को लेकर जिला शिक्षा अधिकारी और छात्र को लेकर पहुंचे शाला विकास समिति के सदस्य के बीच जमकर झड़प भी हुई।

दरअसल शाला समिति के सदस्य द्वारा जिला शिक्षाधिकारी  पर प्राचार्य द्वारा दारू और मुर्गा मांगे जाने के मामले को छिपाने का आरोप लगाया गया है।

जनदर्शन में मामले की शिकायत करने आए 
छात्र अनिस पिता प्रदीप की बहन अस्मिता एक्का 
ने बताया कि उसका भाई कक्षा 9 वीं तक कला संकाय
में तक की पढ़ाई की है। घर की माली हालत 
ठीक ना होने की वजह से अनिस इस साल तमामुंडा 
से नाम खारिज करा कर आस्ता के 
शासकीय स्कूल में प्रवेश लेने का इच्छुक था।

इस स्कूल में प्रवेश के लिए फार्म को भर कर तमाम आवश्यक दस्तावेज लेकर स्कूल पहुंचा तो यहां के प्राचार्य ने स्कूल में कक्षा 10 वीं के लिए स्वीकृत सभी सीट भर जाने की बात कहते हुए छात्र का प्रवेश लेने से मना करते हुए लौटा दिया।

शाला विकास समिति के सदस्य हदिस अंसारी जैसे ही छात्र व उसके परिजनों को लेकर कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर के सामने उपस्थित हुए आवेदन लेकर उसे पढ़ते ही कलेक्टर भी हैरान रह गए। उन्होनें हदिस अंसारी और उसके साथ आए छात्र की मां से सारे मामले की जानकारी ली। हदीस अंसारी ने बताया कि कलेक्टर ने उन्हें मामले की जांच और उसकी कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

जिले में इन दिनों शिक्षा विभाग में अनियमितता के कई मामले सामने आ चुके हैं इसके बावजूद जिले के आला अधिकारी अपने पद पर बने हुए हैं वहीं अनियमितताओं पर कोई कार्यवाही नहीं कर रहे हैं जिसे लेकर कई सवाल खड़े हो रहे हैं।
 ---------------------------------------------------
(पत्रवार्ता की ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए नीचे दिए गए व्हाट्सअप पर क्लिक कर ग्रुप ज्वाइन करें )

Post a Comment

0 Comments