... विधानसभा में गूंजेगा शहर के सीवरेज,हुक्का बार और अरपा का मुद्दा, विधायक शैलेष पांडेय उठाएंगे आवाज..

विधानसभा में गूंजेगा शहर के सीवरेज,हुक्का बार और अरपा का मुद्दा, विधायक शैलेष पांडेय उठाएंगे आवाज..


बिलासपुर(पत्रवार्ता.कॉम) छग विधानसभा के मानसून सत्र में इसबार शहर के सीवरेज, हुक्का बार और अरपा का मुद्दा गूंजने वाला है। विधायक शैलेष पांडेय ने इस मुद्दे को उठाया है।


दरअसल शहर में बगैर लाइसेंस हुक्का बार दर्जनों की संख्या में खुल गए हैं। इससे विशेषकर युवा नशे का आदी बन रहे हैं। खास बात यह है कि इस तरह की नशे की दुकान खोलने के लिए किसी तरह की अनुमति लेने की भी जरूरत नहीं होती। विधायक शैलेष पांडेय ने मानसून सत्र में इस मुद्दे को विधानसभा में उठाया है। इसी तरह एक बार फिर शहर की सीवरेज परियोजना को लेकर विधानसभा में माहौल गर्माने वाला है, क्योंकि जिले के कई विधायक इस काम को लेकर खासे नाखुश हैं।


विधानसभा का मानसून सत्र शुरू हो गया है। पहले दिन तो विधायक को श्रद्धांजलि देकर कार्यवाही समाप्त कर दी गई। अब आने वाले दिनों में विधायकों के प्रश्न और उस पर मंत्रियों के जवाब शुरू हो जाएंगे। शहर विधायक इस बार हुक्का बार को लेकर विधानसभा में आक्रामक रुख अपना सकते हैं। शहर में चलने वाले हुक्का बार को न तो आबकारी विभाग अनुमति देता है और न नारकोटिक्स डिपार्टमेंट या कोई अन्य सरकारी विभाग। इसके बाद भी शहर में धड़ल्ले से हुक्का बार खुल रहे हैं। वहां कम उम्र के युवाओं को नशा परोसा जा रहा है। हुक्का के अलावा भी यहां कई तरह का नशा उपलब्ध है। इसे लेकर विधायक खासे नाराज हैं। हुक्का बारों पर लगाम लगाने के लिए कड़ा कानून बनाने की वकालत उन्होंने की है। 

इसके अलावा उन्होंने सीवरेज को लेकर भी प्रश्न पूछा है। सीवरेज का ठेकेदार काम छोड़कर भाग चुका है। बार-बार मिन्नत करने के बाद भी उसके कर्मचारी नहीं आ रहे हैं। ऐसे में ठेकेदार के खिलाफ ठोस कार्रवाई की मांग विधानसभा में उठ सकती है। जिले के अन्य विधायक भी इस प्रोजेक्ट को लेकर खासे नाराज हैं। उनका साथ भी शहर विधायक को मिल सकता है। 

इन दो अहम मुद्दों की गूंज विधानसभा में होने से आने वाले समय में कोई ठोस निर्णय सरकार ले सकती है। इसके अलावा सरकार से शहर में अरपा का पानी रोककर जलस्तर बढ़ाने की मांग भी हो सकती है। इस तरह जनप्रतिनिधियों को मानसून सत्र से काफी उम्मीदें हैं।

Post a Comment

0 Comments