... ब्रेकिंग पत्रवार्ता- जब 7 साल की बच्ची ने कहा मां ....हाथी....एक बेटी को हाथी ने कुचल दिया दूसरी बेटी की बच गई जान।हाथी के हमले से 17 वर्षीय युवती की मौत।

Recents in Beach


ब्रेकिंग पत्रवार्ता- जब 7 साल की बच्ची ने कहा मां ....हाथी....एक बेटी को हाथी ने कुचल दिया दूसरी बेटी की बच गई जान।हाथी के हमले से 17 वर्षीय युवती की मौत।

 
जशपुर (योगेश थवाईत,पत्रवार्ता) जशपुर में इन दिनों हाथी का आतंक जारी है।हाथी के हमले से एक 17 वर्षीय युवती की जान चली गई।पिछले एक हफ्ते में हाथी से मौत का यह दूसरा मामला है।बादलखोल से लगे गांव में इस हादसे को लेकर लोग दहशत में हैं।वहीं ग्रामीणों ने बताया कि अभ्यारण्य के कर्मचारी अपने कार्यक्षेत्र से आए दिन नदारद रहते हैं।जिससे हाथी की सूचना उन्हें नहीं मिलती।
मामला नारायणपुर गेम रेंज के बादलखोल अभ्यारण्य से लगे गांव रमसमा सिकटाटोली का है जहां शुक्रवार को घरवाले धान उबाल कर सुखाये हुए थे जिसकी महक पाकर रात्रि 11 बजे के आसपास हाथी उसे खाने के लिए घर मे घुस गया।

जहां मृतिका ललिता उसकी मां मुनी बाई व दूसरी 7 वर्षीय बेटी वर्षा सोए हुए थे। हाथी को देखकर छोटी बेटी वर्ष ने सबको सावधान किया।जिसके बाद मां अपने बच्चो के साथ दूसरे दरवाजे से निकलकर भागने लगी।

इस दौरान हाथी ने तीनों को बारी बारी से धकेला।7 साल की वर्षा को भी हाथी ने अपनी चपेट में ले लिया।मुनी व उसकी 7साल की बेटी वर्षा हाथी के हमले में बुरी तरह घायल हो गए वहीं उसकी बड़ी बेटी ललिता को हाथी ने कुचल दिया।

परिजनों ने एम्बुलेंस मंगाकर रात्रि में ही तीनों को बगीचा अस्पताल में भर्ती किया।जहां ललिता को अंदरूनी व बाहरी चोट अधिक होने से रात्रि 2 बजे के आसपास इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।वहीं 2 लोगों का इलाज चल रहा है जो अब खतरे से बाहर हैं।

डॉ व्ही बाखला ने बताया कि चोट काफी गहरा था।मरीज अंतिम स्थिति में था।प्रारंभिक इलाज के बाद अम्बिकापुर रिफर करने के लिए बतौली से एम्बुलेंस मंगाया गया था।इस दौरान ही उसकी मौत हो गई।

ग्रामीणों ने बताया कि अभ्यारण्य के स्टाफ यहां ड्यूटी में नहीं रहते।जिसके कारण हाथी की जानकारी भी नहीं मिलती।

घटना की सूचना मिलते ही बगीचा वन परिक्षेत्र प्रभारी अशोक सिंह अस्पताल पंहुच गए और घटना की जानकारी अभ्यारण्य के अधिकारी कर्मचारियों को दी।

बादलखोल जंगल से लगे गांव में उक्त घटना से दहशत का माहौल है।वहीं शव पंचनामा व पीएम उपरांत मृतक के परिजनों को तात्कालिक मुआवजा राशि विभाग द्वारा दिये जाने की बात कही जा रही है।जाना

Post a Comment

0 Comments