... सियासत:जोगी-माया का सियासी मेगा शो आज,गठबंधन के बाद एक मंच से भरेंगे हुंकार,भाजपा-काँग्रेस दोनों की रहेगी नज़र..

सियासत:जोगी-माया का सियासी मेगा शो आज,गठबंधन के बाद एक मंच से भरेंगे हुंकार,भाजपा-काँग्रेस दोनों की रहेगी नज़र..


बिलासपुर 13 अक्टूबर 2018 (पत्रवार्ता.कॉम) बसपा सुप्रीमो मायावती व जकांछ सुप्रीमो अजीत जोगी का आज बिलासपुर में मेगा सियासी शो होने वाला है। बसपा-जकांछ गठबंधन के बाद छत्तीसगढ़ में दोनों आला नेताओं की पहली साझा सभा होगी। इनके गठबंधन के बाद प्रदेश में पहली बार चुनाव में त्रिकोणीय संघर्ष के कयास भी लगाये जा रहे हैं। ऐसे में सत्ताधारी दल भाजपा और विपक्ष में बैठे काँग्रेस दोनों ही दलों की निगाहें आज जोगी और माया पर होगी।

चुनावी सभा की तैयारी में दोनों ही दलों के दिग्गज बीते एक पखवाड़े से मशक्कत कर रहे हैं। मायावती व जोगी की सभा को प्रभावी बनाने बसपा के छत्तीसगढ़ प्रभारी व राज्य सभा सदस्य अशोक सिद्घार्थ,यूपी के पूर्व मंत्री लालजी वर्मा,प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश वाजपेयी सहित दिग्गज पदाधिकारियों ने यहां एक पखवाड़े से कैंप किया हुआ है। बसपा के अलावा जकांछ के दिग्गज नेता भी लगातार कोशिश करते दिखाई दे रहे हैं। खुद छजकां सुप्रीमो अजित जोगी कार्यक्रम का मोर्चा सम्हाले हुए हैं।

छजकां सुप्रीमो अजीत जोगी का कहना है कि 
ये ऐतिहासिक क्षण है, ऐतिहासिक गठबंधन हुआ है। 
दो समान विचार वाली पार्टियां जो 
गरीबों के लिए काम 
करना चाहती है दोनों पार्टियों का मेल हुआ है। 
कार्यक्रम के जरिये सीधा संदेश होगा कि 
इस प्रदेश में भाजपा का कुशासन, 
अकर्मण्यता,अधिकारी शाही भ्रष्टाचार ये 
सब समाप्त करने के लिए हमारी 
गठबंधन की सरकार बनना ज़रूरी है।

इधर बसपा प्रदेशाध्यक्ष इसे ऐतिहासिक बताते हुए कहते है कि ये प्रदेश की दिशा और दशा दोनों निर्धारित करेगी। गठबंधन की सरकार बनाने की दिशा में ये पहला कदम होगा।

बहरहाल सियासी परिदृश्य साफ है, भाजपा और काँग्रेस को टक्कर देने के लिए छजकां और बसपा एक मंच से शक्ति प्रदर्शन कर प्रदेश की राजनीति में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने वाले हैं। इसके साथ ही प्रदेश का सियासी पारा भी चढ़ने वाला है।

Post a comment

0 Comments