... रिश्वतखोर पटवारी पर नहीं हुई कार्रवाई,अन्य ग्रामीणों ने तहसील पंहुचकर की कार्रवाई की मांग।

Recents in Beach


रिश्वतखोर पटवारी पर नहीं हुई कार्रवाई,अन्य ग्रामीणों ने तहसील पंहुचकर की कार्रवाई की मांग।




कांसाबेल(पत्रवार्ता.कॉम) जशपुर जिले के कांसाबेल तहसील के नकबार में पदस्थ पटवारी योगेश पटेल के खिलाफ कार्रवाई को लेकर अब और भी ग्रामीण लामबंद हो गए हैं।


गौरतलब है कि नकबार पटवारी द्वारा हर काम के लिए रिश्वत मांगे जाने से ग्रामीण खासे परेशान हैं।जिसके खिलाफ 3 दिन पहले कलेक्टर समेत एसडीएम बगीचा से मामले की शिकायत की गई थी।जिसमें बगीचा एसडीएम रवि राही ने ग्रामीणों के बयान के आधार पर पटवारी के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर तहसीलदार को जांच के लिए आदेशित किया था।

पूर्व में किये गए शिकायत आवेदन में कई ग्रामीणों ने हस्ताक्षर किए थे वहां कांसाबेल तहसीलदार ने बयान लेने के लिए केवल 3 ग्रामीणों को नोटिस जारी किया है।नकबार के ग्रामीणों को इसकी भनक मिलते ही 8-10 ग्रामीण आज फिर से पटवारी के खिलाफ रिश्वत मामले में बयान देने के लिए कांसाबेल तहसील पंहुचने की खबर है।


ग्रामीणों द्वारा तहसीलदार के नाम आवेदन लिखकर उनका भी बयान दर्ज किए जाने का निवेदन किया गया है।

ग्रामीणों द्वारा ठोस बयान दिए जाने के बाद भी पटवारी पर कार्रवाई नहीं होने से ग्रामीण खासे नाराज हैं।सूत्रों के हवाले से खबर है कि पटवारी पर निलंबन की गाज गिराने के बजाए उसके तबादले की तैयारी की जा रही है जिसमें कांसाबेल तहसीलदार की संलिप्तता बताई जा रही है।आपको बात दें कि इस रिश्वतखोर पटवारी से नकबार ही महीन आसपास के ग्रामीण भी खासे परेशान हैं।ग्रामीणों का कहना है कि जमीन से जुड़े मामलों में लाखों वसूलने वाले इस पटवारी की तगड़ी सेटिंग होने के कारण अब तक इस पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही।

पटवारी योगेश पटेल की कार्यपप्रणाली को लेकर ग्रामीण त्रस्त हो चुके हैं।ग्रामीणों का कहना है कि इस मामले में तहसीलदार सही तरीके से जांच नहीं कर रहे और मामले में लीपापोती की जा रही है।अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।उन्होंने कहा कि यदि रिश्वतखोर पटवारी पर कार्रवाई नहीं होती है तो रायपुर जाकर मामले की शिकायत सीएम से करेंगे।

Post a Comment

0 Comments