प्रदेश के रिटायर्ड आईएएस आरपीएस त्यागी ने थामा कांग्रेस का दामन,कटघोरा विधानसभा सीट से लड़ेंगे चुनाव..



रायपुर(पत्रवार्ता.कॉम) अब प्रदेश के रिटायर्ड आईएएस आरपीएस त्यागी ने कांग्रेस का दामन थाम लिया है। इससे पहले रायपुर कलेक्टर ओपी चौधरी ने नौकरी छोड़कर भाजपा में प्रवेश किया था। कांग्रेस भवन में शनिवार शाम प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया और पीसीसी चेयरमैन भूपेश बघेल व अन्य नेताओं के सामने त्यागी को विधिवत कांग्रेस की सदस्यता ली।


खबर है, त्यागी को कांग्रेस कटघोरा विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतारेगी। कांग्रेस की पिच पर राजनीति की पारी शुरू करने जा रहे रिटायर आईएएस आरपीएस त्यागी ने कहा है कि मेरी पृष्ठभूमि कांग्रेस की रही है। उनके पूर्वज कांग्रेसी थे।


उन्होंने इसे खारिज किया कि वे पहले भाजपा में शामिल होना चाहते थे मगर इंट्री न मिलने पर उन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया। त्यागी ने कहा कि भाजपा में जाने के बारे में उन्होंने कभी सोचा भी नहीं होगा। कांग्रेस भवन में पार्टी की सदस्यता लेने के बाद वे मीडिया से बात कर रहे थे।उन्होंने कहा कि मेरे पास प्रस्ताव कई जगह से थे लेकिन मैंने कांग्रेस को प्राथमिकता दी।

क्योंकि, इस पार्टी के साथ् ऐतिहासिक उपलब्धि जुड़ी है। देश की आजादी में इस पार्टी का अहम रोल रहा। एक सवाल के जवाब में त्यागी ने कहा कि मेरी कोई महत्वकांक्षा नहीं है। मैं विशुद्ध तौर पर सेवा भाव से पार्टी में आया हूं। बता दें कि आरपीएस त्यागी के बारे में पहले भाजपा में शामिल होने की बात सामने आ रही थी, लेकिन भाजपा के साथ उनकी तालमेल नहीं हो पाने के बाद उन्होंने कांग्रेस का रुख किया है। रिटायरमेंट के बाद से ही त्यागी का राजनीति में आने की खबरें थीं।



त्यागी राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी थे। बाद में उन्हें आईएएस अवार्ड हुआ था। आईएएस में उन्हें 2001 बैच मिला था। वे धमतरी, जांजगीर और कोरबा के कलेक्टर रहे। कोरबा के कलेक्टर रहने के दौरान उन्होंने वहां अच्छा-खासा दायरा तैयार कर लिया था।ओपी चौधरी के भाजपा में शामिल होने के बाद से अटकलें लग रही थी कि कांग्रेस भी उनका तोड़ निकालने की तैयारी में है।



त्यागी कटघोरा विधानसभा के सामान्य सीट से दावेदार होंगे। हालांकि उनका कटघोरा से चुनाव लड़ पाना उतना आसान नहीं होगा। कटघोरा से अभी बीजेपी के विधायक है। बेशक बोधराम कंवर पिछला चुनाव हार गये थे, लेकिन उनका कटघोरा का मैदान छोड़ना आसान नहीं होगा।

Comments

Popular Posts

"जशपुरिया मॉडल दिल्ली में हुई हिट",मॉडल "रेने" का वह गाँव जहाँ से शुरू हुई संघर्ष की कहानी,पत्रवार्ता की टीम पंहुची रेने के घर

BREAKING(पत्रवार्ता)शासकीय महिला कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर,छग में भी लागू होगा चाइल्ड केयर लीव,हाईकोर्ट ने दिया आदेश..

बड़ी खबर : जब उड़नदस्ता टीम ने छात्राओं के उतरवाए कपड़े...? ..और फांसी के फंदे पर झूल गई 10 वीं की छात्रा।