... "विरोधियों को साथ लेकर चलने की कला थी "अटल" में,राजनीतिक इतिहास में उनका नाम शिखर पुरुष के रुप में दर्ज

"विरोधियों को साथ लेकर चलने की कला थी "अटल" में,राजनीतिक इतिहास में उनका नाम शिखर पुरुष के रुप में दर्ज


बिलासपुर(पत्रवार्ता.कॉम) पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर पूरे देश में शोक की लहर है। आम से लेकर खास हर कोई उन्हें उनके व्यक्तित्व, भाषणों, कविताओं के जरिए याद कर रहा है। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा है कि वाजपेयी भले ही हमें छोड़कर चिरनिद्रा में लीन हो गए हों लेकिन उनकी वाणी, उनका जीवन दर्शन सभी भारतवासियों को हमेशा प्रेरणा देता रहेगा। उनका ओजस्वी, तेजस्वी और यशस्वी व्यक्तित्व सदा देश के लोगों का मार्गदर्शन करता रहेगा।  

भाजयुमो जिला कार्यसमिति सदस्य रोशन सिंह ने वाजपेयी को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि देश के राजनीतिक इतिहास में उनका नाम शिखर पुरुष के रूप में दर्ज है। अटल बिहारी वाजपेयी ने खुद को किसी खास विचारधारा के पहरेदार के रूप में स्थापित नहीं होने दिया। उनमें विरोधियों को भी साथ लेकर चलने की कला थी। हिंदी प्रेम, कुशल वक्ता के तौर पर भी उन्हें जाना जाता है।रोशन ने कहा कि हम सब के लिए ये दुखदायी क्षण है। देश ने एक करिश्माई व्यक्तित्व को खो दिया है।

Post a comment

0 Comments