... काँग्रेस के दावेदारों के बीच शह मात का खेल शुरू,प्रत्याशी चयन को लेकर खड़े होने लगे सवाल।

Recents in Beach


काँग्रेस के दावेदारों के बीच शह मात का खेल शुरू,प्रत्याशी चयन को लेकर खड़े होने लगे सवाल।

बिलासपुर(पत्रवार्ता.कॉम) काँग्रेस में टिकट बंटवारे को लेकर सवाल खड़े होने के दौर में बेलतरा विधानसभा में भी काँग्रेस के दावेदारों के बीच शह मात का खेल शुरू हो गया है। प्रत्याशी चयन को लेकर सवाल खड़े होने लगे हैं।


पार्टी के भीतर ही कुछ लोग अपने चहेतों को टिकट दिलाने चाल चलने लगे हैं। बताया जा रहा है कि सब कुछ पहले से फिक्स है, किसे टिकट देना है, किसका नम्बर काटना है। इसके लिए बाकायदा बूथ, सेक्टर व ब्लाक में अपने लोगों को बैठाया जा रहा है।

जो अपने चहेतों के लिए काम कर दूसरे दावेदार के लिए गड्ढा खोदने का काम कर रहे हैं। इधर रायशुमारी के नाम पर दिखावा का खेल भी जारी है। बेलतरा विधानसभा में काँग्रेस से टिकट के लिए 70 से ज्यादा लोगों ने दावा पेश किया है। 

दरअसल प्रत्याशियों के नाम और उन पर होने वाली चर्चाओं का दौर चल रहा है। लेकिन इस बीच दावेदारों ने यह सवाल भी उठाया है कि कुछ ने अपने लोगों को बूथ प्रभारी, सेक्टर प्रभारी और जोन प्रभारी के पद पर बैठा दिया है।

ताकि उनके चहेतों का नाम ऊपर व पहले आये। यही कारण है कि दावेदार इससे नाराज हैं। बीते दिनों हुई मीटिंग में कुछ दिग्गज कांग्रेसी नेता भी उपेक्षा से नाराज़ होकर नही पहुंचे थे। जिनमे त्रिलोक श्रीवास, राजेश चावला ने सब कुछ पूर्व नियोजित होना बताया था। वरिष्ठ कांग्रेसी नेता गंगा राम लास्कर, साखन दर्वे भी  मीटिंग से नाराज होकर बाहर निकल गए थे।

सभी ने आरोप लगाया है कि पूर्व विधायक प्रत्याशी भुनेश्वर व झगर सूर्यवंशी मिलीभगत कर जानबूझकर ऐसा कर रहे हैं। सत्येंद्र कौशिक, रमेश कौशिक के साथ अजय सिंह ने भी सूची को लेकर आपत्ति दर्ज कराई है। इस दौरान सभी ने ब्लॉक अध्यक्ष को बदलने की भी मांग की है। साथ ही इसकी शिकायत पीसीसी व पार्टी अध्यक्ष से भी करने की बात कही है। 



बहरहाल राहुल गान्धी के पार्टी अध्यक्ष बनने के बाद माना जा रहा था कि इस चुनाव में पूरी पारदर्शिता के साथ दावेदार की पृष्ठभूमि, पार्टी में उसके योगदान, सक्रियता, आम जनता की बीच उसकी छवि और समर्थन को देखते हुए योग्य उम्मीदवार को मौका दिया जाएगा। जो काँग्रेस को जीत दिलाएगा। लेकिन जमीनी स्तर पर पार्टी अध्यक्ष के इस प्लान को पार्टी के ही कुछ लोग पतीला लगाने में लगे हुए हैं।  

Post a Comment

0 Comments