... भाजपा का भ्रष्टाचार उजागर,बीजेपी के काले धन को सफेद करने के लिए नोटबंदी -शैलेष

भाजपा का भ्रष्टाचार उजागर,बीजेपी के काले धन को सफेद करने के लिए नोटबंदी -शैलेष

 कॉन्ग्रेसियों ने किया भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का पुतला दहन

बिलासपुर (पत्रवार्ता.कॉम) नोटबंदी के दौरान काले धन को सफेद करने का आरोप लगाते हुए काँग्रेस ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का पुतला दहन किया। इस दौरान पुलिस व प्रदर्शनकारियों के बीच जमकर झूमाझटकी भी हुई।



हालांकि कांग्रेसी पुतला दहन करने में सफल रहे।
काँग्रेस नेताओं का आरोप है कि नोटबंदी के दौरान 3,118.51 करोड़ 
रुपये मूल्य के पुराने नोट महज 5 दिनों के दौरान गुजरात के 11 सहकारी
 बैंकों में जमा हुए है। जिस बैंक में नोटबंदी के बाद सबसे ज्यादा प्रतिबंधित 
नोट जमा हुए थे,अमित शाह उस बैंक के निदेशक हैं। 

कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी के नेता इन बैंकों के साथ जुड़े रहे हैं। बीजेपी और उसके सहयोगियों की सरकारों वाले राज्यों के जिला सहकारी बैंकों में महज 5 दिनों में कुल प्रतिबंधित नोटों का 64.18 फीसदी यानी 22,270.80 करोड़ रुपये मूल्य के नोट जमा हुए। जो भाजपा के भ्र्ष्टाचार को उजागर कर रहा है। 

"कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता शैलेश पांडेय ने कहा कि 
नोटबंदी से न भ्रष्टाचार खत्म हुआ, न किसी के बैंक खाते 
में पन्द्रह लाख रूपये आए, ना कालाधन देश वापस आया।"

जबकि इसके विपरित सैकड़ों लोगों की मृत्यु हो गई। इससे कई कारोबार ठप हो गए। नोटबंदी केवल बीजेपी के काले धन को सफेद करने के लिए किया गया था। मोदी जी ने नोटबंदी को लेकर केवल विश्वास का ढोंग रचाया था। 

पुतला दहन आंदोलन में कांग्रेस कमेटी शहर जिला अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, ग्रामीण जिला अध्यक्ष विजय केशरवानी, प्रदेश प्रवक्ता शैलेश पांडेय, प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव, प्रवक्ता अभय नारायण राय, अनिल चौहान सहित अन्य कांग्रेस के कार्यकर्ता शामिल रहे। 
============================
CVRU को शासन ने जांच में झूठा पाते हुए क्लीनचिट दिया है

Post a comment

0 Comments