... छत्तीसगढ़ सरकार का कड़ा रुख होगी सेवा समाप्ति..किसकी .?

छत्तीसगढ़ सरकार का कड़ा रुख होगी सेवा समाप्ति..किसकी .?


हड़ताल पर जाने वाले आंबा कार्यकर्ता की सेवा समाप्ति के निर्देश



जशपुर(पत्रवार्ता) प्रदेश सरकार के महिला एवं बाल विकास विभाग ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं के हड़ताल पर जाने पर अत्यन्त कड़ा रवैया अपनाते हुए ऐसे कार्यकर्ताओं सहायिकाओं की सेवा समाप्ति की प्रक्रिया तत्काल आरंभ करने के निर्देश जारी किए गए हैं।छत्तीसगढ़ शासन महिला एवं बाल विकास विभाग के द्वारा जिला कलेक्टर को निर्देशित करते हुए उक्त कार्यवाही तत्काल प्रारंभ करने के लिए निर्देशित किया गया है। 
उल्लेखनीय है कि हाल ही में बजट सत्र में मांगों पर सहानुभूति पूर्वक विचार करते हुए मुख्यमंत्री ने राज्य की ओर से मानदेय वृद्धि की घोषणा व बजट का प्रावधान किया है। अब आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को राज्य सरकार की ओर से 1000 रुपए के स्थान पर 2000 रुपए दिया जाएगा।जिससे उन्हें भारत सरकार सहित प्रदत्त मानदेय मिलाकर कुल 5000 मानदेय प्रतिमाह प्राप्त होगा। इसी प्रकार अब आंगनबाड़ी सहायिकाओं को राज्य सरकार सहित प्रदत्त मानदेय मिलाकर कुल 2500 रुपए मानदेय प्रतिमाह प्राप्त होगा। इसी मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को अब राज्य सरकार की ओर से 500 के स्थान पर 1 हजार  दिया जाएगा। 

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की सेवा पूरी होने पर उन्हें 50हजार  एवं सहायिकाओं की सेवा पूरी होन पर उन्हें 25 हजार की राशि प्रदान की जाएगी। चूंकि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ,सहायिका मानदेय आधारित पद है, अतः  उनके लिए पेंशन  जैसा कोई प्रावधान नहीं है इसलिए यह राशि उनकी सेवा निवृत्ति के समय का एक बड़ा सहारा है इसके दौरान आकस्मिक मृत्यु होने पर 10 हजार रुपए के अनुग्रह राशि की सुविधा 10 दिवस का विशेष ग्रीष्मकालीन अवकाश प्रसूति अवकाश बीमा योजना संबंधी सुविधाएं पूर्व से ही प्रदान की जा रही है।

बावजूद इसके आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं सहायिकाओं द्वारा ऐसी मांगे की जा रही है जो पूर्ण किया जाना संभव नहीं है। फिर भी यदि आंबा कार्यकर्ता हड़ताल पर जाते हैं तो उनके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही होगी।

=====================================================================
कहाँ हुई करोड़ों के टेंडर में सेटिंग किसे मिला कितना 
क्लिक करें 

Post a comment

0 Comments