... आत्मानंद भर्ती गड़बड़ी : ब्रेकिंग पत्रवार्ता :"प्रबल प्रताप" के तल्ख़ तेवर,कैसा जिला प्रशासन ? एक भर्ती प्रक्रिया में पारदर्शिता नहीं,दोषियों के विरुद्ध जाँच व कार्यवाही की मांग,जिला शिक्षा अधिकारी समेत चयन समिति की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में.......?

आपके पास हो कोई खबर तो भेजें 9424187187 पर

आत्मानंद भर्ती गड़बड़ी : ब्रेकिंग पत्रवार्ता :"प्रबल प्रताप" के तल्ख़ तेवर,कैसा जिला प्रशासन ? एक भर्ती प्रक्रिया में पारदर्शिता नहीं,दोषियों के विरुद्ध जाँच व कार्यवाही की मांग,जिला शिक्षा अधिकारी समेत चयन समिति की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में.......?

 


जशपुर,टीम पत्रवार्ता,02 जून 2022 

BY योगेश थवाईत  

जशपुर जिले में आत्मानंद स्कुल में शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया लगातार विवादों में है।एक ओर जहाँ पूर्व की भर्ती प्रक्रिया में हाईकोर्ट ने रोक लगा रखी  है वहीँ दूसरी ओर हाईकोर्ट के स्थगन आदेश को दरकिनार करते हुए जिला प्रशासन ने पुनः भर्ती प्रक्रिया शुरु  कर दी।इस बार की भर्ती प्रक्रिया में भी जिला प्रशासन द्वारा पारदर्शिता का ध्याना नहीं रखा गया है जिससे जिला शिक्षा अधिकारी समेत चयन समिति  सवालों के घेरे में है।बीजेपी  नेता प्रबल प्रताप सिंह जूदेव ने पुरे मामले पर शासन प्रशासन को घेरते हुए दोषियों के विरुद्ध जांच व  कार्यवाही की मांग की है।

उल्लेखनीय है कि जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में बुधवार को अभ्यर्थियों के हंगामे के बाद इस मुद्दे को बीजेपी ने हाथो हाथ उठाते हुए पीड़ित अभ्यर्थियों को अपना समर्थन दिया है।

मामले में बीजेपी नेता प्रबल प्रताप सिंह जूदेव छत्तीसगढ़ सरकार को घेरते हुए कहा कि ये सरकार एक भर्ती शुद्धता से नहीं कर पा रही है।पहले भी लोगों के ऊपर अनर्गल आरोप लगाकर शासन में बैठे लोग ही भर्ती प्रकिया को निरस्त करवा दिए और फिर अब भी इस मामले से पारदर्शिता गायब है।जब पहले वाली भर्ती में त्रुटि पाया गया है तो उसी लिपिक से पुनः कार्य लेना तो सम्पूर्ण संदेहास्पद है।

15 और 16 मई को जब दस्तावेज जांच हेतु पत्र जारी किया गया था तो फिर किसके आदेश से पिछले दरवाजे से 19 मई तक जांच किया गया। जब पहले भर्ती प्रकिया जांच में साक्षात्कार के एक सप्ताह बाद रिजल्ट निकालने को दूषित पाया गया तो इस बार साक्षात्कार दिनांक के शाम को रिजल्ट क्यो नही निकाला गया, सम्पूर्ण मामला संदेहास्पद है।

उन्होंने यह भी बताया कि मैं जशपुर से बाहर हूँ, किन्तु बहुत से अभ्यर्थी मुझे फोन पर शिकायत कर रहे है कि उनके साथ अन्याय हो रहा है, एक अभ्यर्थी जो प्रयोग शाला सहायक की है उन्होंने लिखित शिकायत भी दिया है कि उसके 10 वी एवं 12 वी का वेटेज में वो 3 स्थान पर थी किन्तु साक्षात्कार में षडयंत्र के तहत 5 से कम नंबर देकर पूरी प्रकिया से अपात्र कर दिया गया है, मैं पूछना चाहता हूं कि भारत का कौन सा परीक्षा तंत्र है जो साक्षात्कार में यदि 50 प्रतिशत अंक नही प्राप्त करोगे तो आपको सीधे अपात्र कर दिया जायेगा । 

प्रबल ने तत्काल इस संबंध में जांच बैठाने व दोषियों के खिलाफ कार्यवाही कर भर्ती प्रकिया को पूर्ण पारदर्शी ढंग से करने की मांग की है,उन्होंने कहा है कि मैं इस संबंध में शिक्षा मंत्री श्री टेकाम जी से चर्चा करता हूँ, अन्यथा पूर्व की भांति प्रकिया निरस्त होगी तो उसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी ।

Post a Comment

0 Comments