... खुलासा : युवती के " ब्लाईंड मर्डर " मामले में पुलिस ने ट्रक चालक समेत हेल्पर को किया गिरफ्तार,NH 43 पर हुई थी हैवानियत, "गैंगरेप के बाद दोनों ने ऐसे दिया था वारदात को अंजाम...?साईबर सेल ऐसे पंहुची आरोपियों तक,पूरी खबर सिर्फ पत्रवार्ता पर.....?

खुलासा : युवती के " ब्लाईंड मर्डर " मामले में पुलिस ने ट्रक चालक समेत हेल्पर को किया गिरफ्तार,NH 43 पर हुई थी हैवानियत, "गैंगरेप के बाद दोनों ने ऐसे दिया था वारदात को अंजाम...?साईबर सेल ऐसे पंहुची आरोपियों तक,पूरी खबर सिर्फ पत्रवार्ता पर.....?

पत्थलगांव, टीम पत्रवार्ता,12 मार्च 2021

BY प्रदीप ठाकुर

बीते दिनों पत्थलगांव के झण्डाघाट में अज्ञात युवती का शव मिला था जिसमें पुलिस ने अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाते हुए अहम खुलासा किया है।युवती की हत्या ट्रक चालक और हेल्पर ने की है।आरोपियों ने पहले युवती को ट्रक में बैठाया और चलती ट्रक में उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया।जब युवती ने इसका विरोध किया तो उन्होंने युवती की गला दबाकर हत्या कर दी और शव झंडाघाट के जंगल में फेंक दिया।


मामले में पत्थलगांव पुलिस ने बताया कि उन्हें 2 मार्च की रात्रि 8बजे सूचना मिली थी कि ग्राम लुड़ेग के झण्डा घाट में रोड़ के किनारे एक अज्ञात युवती का शव पड़ा हुआ है । सूचना पर थाने की टीम तत्काल घटना स्थल पर पंहुची। अज्ञात युवती का शव देखने पर मामला प्रथम दृष्टया हत्या का प्रतीत हो रहा था।

अज्ञात युवती के शव के शिनाख्त हेतु आसपास के सभी थाना क्षेत्रों में सूचना दी गई वायरल किये गये फोटो से मृतिका के रिश्तेदारों ने उसे पहचाना।मृतिका की पहचान मनीषा तिर्की पिता प्रेमसाय तिर्की उम्र 28 वर्ष निवासी लक्ष्मीपुर धरमजयगढ़ के रूप में हुई थी । 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जशपुर बालाजी राव व संयुक्त संचालक एफएसएल श्री पैंकरा के द्वारा घटना स्थल पहुंचकर घटना स्थल का निरीक्षण किया गया।जिसके बाद जिले के एसपी ने अज्ञात आरोपियों की तलाश के लिए एसडीओपी पत्थलगांव योगेश देवांगन को तत्काल टीम गठित कर मामले का शीघ्र निराकरण करने हेतु निर्देश दिया गया।

साईबर सेल से मिली जानकारी

साईबर सेल जशपुर की मदद से मामले में आवश्यक मदद लेकर संभावित आरोपियों की तलाश में थाना पत्थलगांव से एक टीम महाराष्ट्र के लिए रवाना की गई जहां कोल्हापुर में एक संदेही ट्रक चालक राजु कुमार से पूछताछ की गई जिसने अपने साथी खलासी विकास कुमार उर्फ अभिषेक सिंह निवासी डालटनगंज के द्वारा मिलकर मनीषा तिर्की की हत्या करना स्वीकार किया ।

मामले के दुसरे आरोपी अभिषेक को बुलढाना के पास से हिरासत में लिया गया।उक्त दोनों आरोपियों को थाना पत्थलगांव लाकर बारिकी से पूछताछ की गई।जिसमें राजु कुमार ने बताया कि वह और मनीषा तिर्की एक दुसरे को लगभग एक महीने से जानते थे।

27 फरवरी को राजु के मालिक की दो गाड़ियां NL01 AC9157 और CG04 JC7624 टाटा में माल लोड कर जिझोरी महाराष्ट्र के लिए रवाना हुई थी । जिसके एक गाड़ी NL01 AC9157 को राजु चला रहा था और उसमें उसका खलासी सुभाष तिर्की था।

चलती ट्रक में गैंगरेप 

दुसरी गाड़ी CG04 JC7624 को कलेश्वर सिंह चला रहा था ,जिसका खलासी अभिषेक था ।28 फरवरी को मनीषा का इसके साथ संपर्क हुआ तब 01 मार्च को इनका आपस में कुनकुरी में मिलना तय हुआ। तब राजु और अभिषेक ने योजना बद्ध तरीके से काम करते हुए चरईडांड के पास दुसरी गाड़ी से उसके खलासी अभिषेक को अपने गाड़ी में बुला लिया और अपने गाड़ी के खलासी सुभाष को दुसरी गाड़ी में भेज दिया।

मृतिका ने दी थी पुलिस की धमकी 

1 मार्च की शाम को कुनकुरी में मनीषा राजु के ट्रक में बैठ गई। कुनकुरी से थोड़ा आगे आकर राजु और अभिषेक ने शराब पी।वहां से आगे बढ़कर कुछ किमी दूर जाने के बाद चलती गाड़ी में अभिषेक और राजु ने बारी बारी से मृतिका के साथ शारीरिक संबंध बनाया।उसके बाद मृत्तिका मनीषा ने राजु को शादी करने और अपने साथ रखने की जिद करने लगी।राजु के मना करने पर मृतिका ने पुलिस केस करने की धमकी देने लगी।तब गुस्से में दोनों ने गमछे से मृतिका का गला घोंट दिया और मृतिका के शरीर को झण्डा घाट में फेंककर माल खाली करने के लिए जिझोरी महाराष्ट्र के लिए रवाना हो गए।

प्रकरण में आरोपी के निशानदेही पर मृतिका का मोबाईल बरामद किया गया है। आरोपियों के विरूद्ध पर्याप्त सबुत मिलने से आरोपियों को गिरफ्तार कर राजु कुमार महतो पिता अमरजीत महतो उम्र 32 वर्ष निवासी ग्राम व थाना बाढ़ जिला पटना ( बिहार ) और अभिषेक कुमार सिंह पिता रमेश सिंह उम्र 19 वर्ष निवासी काती महगवां थाना पाण्डु जिला पलामु को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

प्रकरण की विवेचना में निरीक्षक संतलाल आयाम ,सउनि केके साहू,आरक्षक 558 तुलसी रात्रे और साईबर सेल प्रभारी सउनि नशीरूद्दीन अंसारी जशपुर का विशेष योगदान रहा।

Post a comment

0 Comments