ब्रेकिंग पत्रवार्ता:- जनजातीय समाज ने दी लोकसभा चुनाव बहिष्कार की चेतावनी।कैलाश गुफा मार्ग के जल्द निर्माण की मांग।काम मे बाधा पंहुचाने वालों पर कार्रवाई की मांग। धरना प्रदर्शन में जुटे सैकड़ों ग्रामीण।


जशपुर (15 फरवरी 2019) कैलाश गुफा में स्वीकृत सड़क निर्माण जल्द कराए जाने की मांग को लेकर जनजातीय समाज के साथ क्षेत्रवासियों ने मैनी चौक में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन कर अपनी मांग रखी।यहां ग्रामीणों ने मांग पूरी न होने पर आगामी लोकसभा चुनाव बहिष्कार की चेतावनी दी है साथ ही आश्रम प्रबंधन के तानाशाही रवैये से परेशान होकर कैलाश गुफा के समुचित विकास के लिए उसे ट्रस्ट बनाने की मांग की है।

मैनी चौक में आयोजित धरना प्रदर्शन में पंहुचे ग्रामीण रामकिशुन राम,लछु राम,विश्वनाथ राम,बिरझु राम,सोमारू पहाड़ी,होलनाथ,भोलानाथ,मधुसूदन भगत,बालकेश्वर समेत सैकड़ों ग्रामीणों ने एक स्वर में आश्रम प्रबंन्धन की मनमानी के खिलाफ आवाज बुलंद करते हुए जल्द सड़क निर्माण की मांग की।उन्होंने बताया कि शासन द्वारा कैलाश गुफा मार्ग के 6 किलोमीटर सड़क निर्माण के लिए लगभग 16 करोड़ की स्वीकृति दी गई है।जिसमें लोक निर्माण विभाग द्वारा विधिवत टेण्डर के बाद संबंधित ठेकेदार को कार्यादेश जारी कर दिया गया है।उक्त निर्माण कार्य ठेकेदार द्वारा शुरू कराए जाने के बाद आश्रम प्रबंन्धन द्वारा कांग्रेसी विधायक को आगे कर काम बंद कराने के लिए शासन स्तर पर दबाव बनाया जा रहा है।जिसके खिलाफ ग्रामीण एकजुट होकर स्वीकृत मार्ग पर सड़क बनाये जाने की मांग कर रहे हैं।

मधुसूदन भगत ने बताया कि 16 करोड़ की लागत से निर्माण होना है जो वृहत स्तर पर होगा।इसके बावजूद निर्माण कार्य मे लापरवाही बरती जा रही है।जल्द से जल्द निर्माण कार्य युद्धस्तर पर शुरु होना चाहिए।यदि सुनियोजित तरीके से काम शुरू नहीं होता है तो क्षेत्र की जनता उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होगी।विश्वनाथ राम ने बताया कि आश्रम प्रबंन्धन द्वारा उनपर दबाव डाला जाता है।वन संपदा फल फूल पर भी उनका कब्जा है।

3 मौजा में पहाड़ी कोरवा समेत जनजाति परिवार
रामकिशुन ने बताया कि कैलाश गुफा 3 मौजा हैं जहां पहाड़ी कोरवा परिवार निवास करते हैं।दुर्गम क्षेत्र होने के कारण काफी परेशानी होती है।बीमारी में भी आना जाना मुश्किल होता है।यदि सड़क नहीं बनती है तो शासन की सुविधा से वंचित होने की बात ग्रामीण कर रहे हैं।काम न होने पर वे आगामी लोकसभा चुनाव में बहिष्कार की बात कह रहे हैं।

पुलवामा शहीद जवानों को दी गई श्रद्धांजलि।
धरना स्थल पर जनजातीय समाज के साथ क्षेत्रवासियों ने पुलवामा में शहीद हुए जवानों के प्रति अपनी सहानुभूति व्यक्त की।शहीद परिवार को संबल मिले इस कामना के साथ महामृत्युंजय मंत्र का उच्चारण कर 2 मिनट का मौन रखते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित किया गया।कार्यक्रम में बगीचा पुलिस ने शांति सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने में सहयोग दिया।

Comments

Popular Posts

"जशपुरिया मॉडल दिल्ली में हुई हिट",मॉडल "रेने" का वह गाँव जहाँ से शुरू हुई संघर्ष की कहानी,पत्रवार्ता की टीम पंहुची रेने के घर

BREAKING(पत्रवार्ता)शासकीय महिला कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर,छग में भी लागू होगा चाइल्ड केयर लीव,हाईकोर्ट ने दिया आदेश..

बड़ी खबर : जब उड़नदस्ता टीम ने छात्राओं के उतरवाए कपड़े...? ..और फांसी के फंदे पर झूल गई 10 वीं की छात्रा।