.

लापरवाही:- कार्यक्षेत्र से नदारद रहते हैं गेम रेंज के कर्मचारी,कड़ी कार्रवाई के अभाव में जारी है लकड़ी की चोरी,सुतरी,बेंद का इलाका सागौन तस्करों का सेफ जोन..?


जशपुर(योगेश@पत्रवार्ता) इन दिनों बादलखोल अभ्यारण्य में लकड़ी चोरों के हौसले बुलंद हैं।दिन दहाड़े जंगल के रास्ते बड़ी गाड़ियों में लकड़ी का अवैध परिवहन आम बात है।

गौरतलब है कि नारायणपुर गेम रेंज के अंतर्गत शरबकोम्बो,साहीडाँड़, कलिया, बछराँव,सुतरी,बेंद समेत बादलखोल अभ्यारण्य में वनरक्षक व दरोगा की तैनाती के बाद भी लकड़ी तस्करों के हौसले बुलंद हैं।यहां के कई जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी कार्यस्थल से दूर निवास करते हैं जिसके कारण ऐसे मामलों में कार्रवाई तो दूर की बात देखरेख भी नहीं हो पाती जिसके कारण दिनों दिन बादलखोल में पेड़ों की कटाई बदस्तूर जारी है।

ताजा मामला है साहीडाँड़ कलिया मार्ग के कुटमा नाला के पास का जहाँ बुधवार को एक ट्रैक्टर में अवैध लकड़ी का परिवहन किया जा रहा था।जिसकी सूचना विभाग को मिलने के बाद साहीडाँड़ बेरियर से किसी कर्मचारी द्वारा मौका मुआयना किया गया।पर खास बात यह कि न तो उसने लकड़ी जप्त किया न ट्रेक्टर।


यहां जो जिम्मेदार कर्मचारी थे उनके बारे में पता करने पर बताया गया कि वे मुख्यालय में नहीं रहते जशपुर में रहते हैं।ये अहम बात है कि जशपुर में बैठकर बादलखोल को सुरक्षित नहीं रखा जा सकता।

सुतरी व बछरांव में सर्चिंग जरुरी
बगीचा बेंद इलाके के सुतरी में सागौन की लकड़ी का बड़ा कारोबार होता है।जहां कई परिवार इसी पर आश्रित हैं।यहां कर्मचारियों के साथ ग्रामीणों की तगड़ी सेटिंग की खबर आए दिन सामने आती रहती है।जिसके कारण अब तक विभाग द्वारा कड़ी कार्रवाई नहीं की गई है।वन अमले के पास ऐसी सारी सूचना रहती है इसके बाद भी वे कोई कार्रवाई नहीं करते जिससे लकड़ी तस्करों के हौसले बुलंद बने रहते हैं।

"कर्मचारियों को अपने कार्यक्षेत्र में रहने के लिए निर्देशित किया गया है,लापरवाही बरते जाने पर उच्चाधिकारियों को पत्र के माध्यम से जानकारी भेजी जाएगी,ट्रेक्टर में लकड़ी के अवैध परिवहन की जांच कराकर उचित कार्रवाई की जाएगी।"

पीएल गौर,गेम रेंजर,बादलखोल।
Share on Google Plus

About patravarta.com

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 Comments:

Featured Post

सियासत के बदलते मौसम में जशपुर के नेताओं को मार गया पाला......? जशपुर की सियायत का उत्तराधिकारी कौन...?

जशपुर(11 फरवरी 2019 योगेश थवाईत) बदलते मौसम का असर अब यहां की राजनीति पर दिखने लगा है।कारण अगर आप जानना चाहते हैं तो बस एक लाईन समझ लें...