... हाथी हमला : जिले में दंतैल का कहर,एक ही जंगल में हाथी के हमले से 2 की मौत,1 बच्ची घायल ,हाथी मौके पर मौजूद,वन अमला पंहुचा मौके पर,ग्रामीणों में दहशत,1 हफ्ते में दूसरी बड़ी वारदात,वन विभाग ने जारी किया अलर्ट,जंगल जाने पर प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत हो सकती है कार्यवाही।

हाथी हमला : जिले में दंतैल का कहर,एक ही जंगल में हाथी के हमले से 2 की मौत,1 बच्ची घायल ,हाथी मौके पर मौजूद,वन अमला पंहुचा मौके पर,ग्रामीणों में दहशत,1 हफ्ते में दूसरी बड़ी वारदात,वन विभाग ने जारी किया अलर्ट,जंगल जाने पर प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत हो सकती है कार्यवाही।

 


जशपुर,टीम पत्रवार्ता,14 जून 2021

BY योगेश थवाईत

जिले में लगातार हाथियों का आतंक बढ़ता जा रहा है।एक हफ्ते में यह दूसरी बड़ी घटना है जिसमें एक ही जंगल मे हाथी ने दो लोगों को कुचलकर मौत के घाट उतार दिया है।पत्रवार्ता को मिली जानकारी के अनुसार अब भी जंगल मे हाथियों की मौजूदगी बताई जा रही है।वन विभाग ने पूरे जिले में अलर्ट जारी किया है।


मामला जशपुर जिले के तपकरा वन परिक्षेत्र का है जहां जमुना वनक्षेत्र में कम्पार्टमेंट 862 में एक महिला व एक पुरूष को हाथी ने कुचल दिया है।पत्रवार्ता को मिली जानकारी के अनुसार प्रकाश एक्का (55) व दयामनी तिर्की जंगल के अंदर अपने पट्टे की जमीन में बुआई किये धान की फसल को देखने गए हुए थे। इसके साथ ही महुआ डोरी उठा रहे थे तभी हाथी ने उस पर हमला कर दिया जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई।वहीं दयामनी तिर्की कुछ दूरी पर पुटू ढूंढ रही थी और अचानक हाथी से उसका सामना हो गया।देखते ही देखते हाथी ने उसपर भी हमला कर दिया और उसकी भी मौत हो गई।

दरअसल हाथी ने पहले पुरुष पर हमला किया इसके बाद वह आगे बढ़ा तो उसे महिला मिली जिसपर हाथी ने हमला कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया।इसके बाद वहीं पास में एक 4 साल की बच्ची आलिया को भी हाथी ने घायल किया।जिसे अस्पताल के लिए कुनकुरी के होलीक्रॉस अस्पताल रैफर किया गया है।

तपकरा थाना प्रभारी वंश नारायण शर्मा ने पत्रवार्ता को बताया कि शवों का रेस्क्यू कर लिया गया है।पंचनामा पीएम की कार्यवाही की जा रही है।

वहीं जशपुर डीएफओ जाधव श्रीकृष्ण ने बताया कि ग्रामीणों को लगातार जंगल जाने से रोका जा रहा है इसके बावजूद ग्रामीण पुटू खुखड़ी उठाने के लालच में तड़के जंगल की ओर रुख कर रहे हैं।

"हाथियों के लगातार हमले को देखते हुए हाथी प्रभावित क्षेत्र में जंगल जाने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाते हुए प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत कार्यवाही की प्रक्रिया की जा रही है।ग्रामीण जंगल की ओर न जाएं इसके लिए अलर्ट भी जारी किया जा रहा है।"


Post a Comment

0 Comments