... CRIME : कानपुर के विकास दुबे वाले एन्काउंटर के डर से किया था चाक़ू से जानलेवा हमला , हत्या के प्रयास का मामला दर्ज, 3 आरोपी गिरफ्तार .....

CRIME : कानपुर के विकास दुबे वाले एन्काउंटर के डर से किया था चाक़ू से जानलेवा हमला , हत्या के प्रयास का मामला दर्ज, 3 आरोपी गिरफ्तार .....


जशपुर,टीम पत्रवार्ता,15 जुलाई 2020 

जशपुर के डोड़काचौरा गम्हरिया में बीते 14 जुलाई को ढाबा संचालक पर चाक़ू से वारकर हत्या की कोशिश की गई थी जिसमे कोतवाली पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए कई अहम् खुलासे किए हैं ।

जशपुर पुलिस अधीक्षक बालाजी राव के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुश्री उनैजा खातून,पुलिस अनुविभागीय अधिकारी राजेन्द्र सिंह परिहार के मार्गदर्शन में थाना सिटी कोतवाली जशपुर की टीम ने उक्त मामले की जाँच की जिसमें पुलिस ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि डोड़काचौरा निवासी दशरथ प्रसाद जायसवाल 14 जुलाई की सुबह लगभग 04.50 बजे गुमने निकले थे इस दौरान अज्ञात आरोपियों द्वारा चाक़ू से प्राणघातक हमला कर गम्भीर चोट पहूंचाकर उन्हें घायल कर दिया गया था।जिसकी सूचना भरत जायसवाल ने कोतवाली में दर्ज कराई थी।रिपोर्ट पर 14 जुलाई को धारा 307 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। 

विवेचना के दौरान संदेही रामकुमार गोस्वामी निवासी डोड़काचैरा जशपुर को तलब कर पूछताछ किया गया जो घटना कारित करना स्वीकार कर बताया कि उसकी डोड़काचैरा में जायसवाल ढाबा के बगल में शासकीय भूमि कब्जा किया है। जिस पर जायसवाल ढाबा संचालक दशरथ प्रसाद जायसवाल के द्वारा विगत 05-06 वर्षों से उक्त जमीन पर अपना दावा कर जमीन को छोड़ने का दबाव बनाकर विवाद करते आ रहा है। जिसका तहसील न्यायालय में भी प्रकरण चल रहा है।

दिनांक 13 जुलाई को उसी जमीन विवाद को लेकर ग्राम पंचायत गम्हरिया में मीटिंग रखा गया था जहां मीटिंग के दौरान दशरथ प्रसाद जायसवाल का लड़का लक्ष्मण प्रसाद जायसवाल के द्वारा आरोपी रामकुमार गोस्वामी को धमकाते हुये बोला गया कि यदि तुम उक्त शासकीय जमीन को नहीं छोड़ोगे तो तुमको कानपुर के विकास दुबे के जैसा एन्काउंटर करवा दुंगा। 

लक्ष्मण जायसवाल की धमकी को सुनकर आरोपी रामकुमार ने योजना बनाकर अपने साथी डोड़काचैरा निवासी रोहित दस जितेन्द्र राम, बजरंग के साथ मिलकर दिनांक 14 जुलाई को रात्रि में लक्ष्मण प्रसाद जायसवाल को रोड में आने का इन्तजार किये। तभी अंधेरे में जायसवाल ढाबा से दशरथ प्रसाद जायसवाल निकले जिसे रोड किनारे से खींचकर अंधेरा मे ले जाकर आरोपी रामकुमार ने पीछे से धक्का देकर गिरा दिया जिससे ईट का दिवाल व लकड़ी के खम्भे से उसके सिर चेहरा में चोंट लगा और आरोपी द्वारा चाकू से भी वारकर चोंट पहूंचाकर घायल अवस्था में छोड़कर भाग गये और रामकुमार के साथी आरोपी उसकी मदद के लिये पीछे खडे़ थे।

आरोपी रामकुमार,रोहित दास, जितेन्द्र राम को 15 जुलाई को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया है। थाना सिटी कोतवाली जशपुर के निरीक्षक लक्ष्मण सिंह धुर्वे, सउनि, जोसिक राम कुर्रे, नसरूद्दीन अंसारी, प्रधान आरक्षक मनोज कुमार सिंह, आरक्षक शोभनाथ सिंह, संतोष कुमार बंजारे, अविताब भगत, लेबिट कुजूर, विनोद तिर्की, एडवर्ड जेम्स तिर्की, सैनिक विद्याधर यादव के द्वारा प्रकरण निकाल करने में सराहनीय योगदान रहा है।

Post a comment

0 Comments