... ब्रेकिंग पत्रवार्ता : यहाँ नहीं चलते "LOCKDOWN" के नियम,सारे नियमों को दरकिनार कर घर घर पंहुच..? रहे समोसे और गुपचुप..? प्रतिबंधित दुकानों में में खुलेआम चल रहा व्यापर,नहीं है कोरोना संक्रमण की कोई चिंता

ब्रेकिंग पत्रवार्ता : यहाँ नहीं चलते "LOCKDOWN" के नियम,सारे नियमों को दरकिनार कर घर घर पंहुच..? रहे समोसे और गुपचुप..? प्रतिबंधित दुकानों में में खुलेआम चल रहा व्यापर,नहीं है कोरोना संक्रमण की कोई चिंता


पत्थलगाँव,टीम पत्रवार्ता,24 अप्रैल 2020

जशपुर जिले के पत्थलगाँव में लॉकडाउन के नियमों का सरासर उल्लंघन होता दिख रहा है।एक ओर जहाँ पूरा देश इस भयावह महामारी के संक्रमण से जूझ रहा है और अपने घरों में बंद हैं वहीँ दूसरी ओर बिना किसी चिंता के पत्थलगाँव में दुकानें खोलने की होड़ मची हुई है।आपको बता दें कि पत्थलगाँव राष्ट्रीय राजमार्ग 43 के किनारे बसा हुआ है जहाँ कोरबा,धर्मजयगढ़ की सीमा लगी हुई है वहीँ रोजाना लोगों की आवाजाही यहाँ हो रही है।इसके बावजूद यहाँ लॉकडाउन के नियमों का पालन कराने में प्रशासन विफल नजर आ रहा है हालाकि पुलिस प्रशासन ने तत्काल इस मामले पर कार्यवाही की बात कही है 

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ सरकार ने 20 अप्रैल के बाद कुछ उद्यमों को छुट देते हुए स्थानीय स्तर पर एसडीएम को अधिकार देते हुए स्वविवेक से लॉकडाउन के नियमों में छुट देने का आदेश दिया है जिसमे आवश्यक वस्तुओं की दुकानें शामिल हैं।वहीँ जिला प्रशासन सीमाओं को सील करते हुए निश्चित समय में कुछ दुकानों को खोलने का आदेश दिया है।जिसमें शर्त यह है कि दूकानदार सभी आवश्यक नियमों का कड़ाई से पालन करें।
                                                                                               
इसके बावजूद पत्थलगाँव में कपड़े,जूता चप्पल की दुकानों के अलावा अन्य कई प्रतिष्ठान स्वस्फूर्त हाफ शटर में खुले नजर आ रहे हैं जो प्रशासन से नजरें छिपा कर लॉकडाउन के नियमों का सरासर उल्लंघन कर रहे हैं।सूत्रों के हवाले से यह भी खबर है कि फास्ट फ़ूड बंद के बावजूद लोग घरों में समोसे और गुपचुप की सप्लाई भी कर रहे हैं जो बेहद चिंतनीय है।खास बात यह कि बाहर निकलने पर शासन ने मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है इसके बावजूद नगरीय क्षेत्र में कई लोग बिना मास्क लगे ही घूमते दिख रहे हैं जिनपर नगरीय प्रशासन भी कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है।

जिले में धारा 144 लागू है इसके बावजूद पत्थलगाँव के बसस्टैंड व मुख्य चौक पर लोगों की भीड़ देखि जा सकती है जहाँ संक्रमण का हत्र बना हुआ है।उल्लेखनीय है कि जशपुर जिले की सीमा झारखण्ड व ओड़िसा के इलाकों में कोरोना पोजिटिव मरीज मिले हैं एहतियातन जिला प्रशासन ने जिले में लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने का निर्देश दिया है इसके बावजुद पत्थलगाँव में इन नियमों की धज्जियाँ उड़ रहीं है।
लॉकडाउन का पालन कराती पत्थलगाँव पुलिस 

इस मामले पर जब पत्रवार्ता की टीम ने एसडीम से बात करनी चाही तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया जिसके बाद पत्थलगाँव एसडीओपी योगेश देवांगन से बात हुई तो उन्होंने कहा यह बेहद गंभीर मामला है,उन्होंने सभी से लॉकडाउन के नियमों का पालन कराने की बात कही।उन्होंने बताया कि जो नियमों का पालन नहीं करेंगे उनपर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।तत्काल मौके पर टीम रवाना की जा रही है।

इधर पत्थलगाँव में सोशल मिडिया पर जमकर बहस छिड़ी हुई है जिसमे निवेदन किया जा रहा है कि प्रशासन के अलावा कुछ जिम्मेदारी नागरिकों की भी बनती है ऐसी विपरीत परिस्थिति में प्रशासन का सहयोग करना चाहिए और नियमों का सभी को पालन करना चाहिए।कुछ लोग सोशल डिस्टेंसिग का कोई पालन नही कर रहे वहीँ दूकानदार बेख़ौफ़ होकर सेनेटाईजर,हैण्वडवाश व बिना मास्क अपनी मनमानी कर रहे हैं उनपर कार्यवाही किये जाने की बात भी की जा रही है। 



"लॉकडाउन के नियमों का पालन कराया जा रहा है,तत्काल पुलिस की टीम रवाना की जा रही है,चेहरे पर मास्क न लगाने वालों पर जुर्माने का भी प्रावधान है जिसमे नगर पंचायत द्वारा अर्थदंड लगाया जाएगा।लोग भीड़ इकट्ठी न करें व सामाजिक दुरी बनाकर रखें" 

योगेश देवांगन,एसडीओपी पत्थलगाँव 





Post a comment

0 Comments