... CORONA अलर्ट : "कोरोना वायरस" के संक्रमण के रोकथाम के लिए "एक्टिव सर्विलांस" टीम का गठन,गांव गाँव तक रहेगी नजर

CORONA अलर्ट : "कोरोना वायरस" के संक्रमण के रोकथाम के लिए "एक्टिव सर्विलांस" टीम का गठन,गांव गाँव तक रहेगी नजर




जशपुर, टीम पत्रवार्ता,  27 मार्च 2020


कलेक्टर निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर के मार्गदर्शन में जशपुर जिले में नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतुु सामुदायिक स्तरों पर एक्टिव सर्विलेंस टीम का गठन किया गया हैै। जिनमें जिला स्तरीय एक्टिव सर्विलेस टीम, विकासखंड स्तरीय कम्यूनिटी सर्विलेस टीम, ग्राम पंचायत स्तरीय सक्रिय कम्यूनिटी सर्विलेस टीम शामिल है। ज्ञात है कि नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) एक संक्रामक बीमारी है, जो विभिन्न देशों मे कुछ ही हफ्तों में महामारी का रूप ले चुकी है। कलेक्टर श्री क्षीरसागर  द्वारा यह निर्देशित किया गया है कि इससे बचने के सभी संभावित उपाय अमल में लाये जायें। जिसके लिए सर्विलेस टीम के सभी सदस्यों में उनके कार्यो का आबंटन कर उन्हे जिम्मेदारी पूर्वक पूरा करने के निर्देश दिये गये है।


07 सदस्यों की जिला स्तरीय एक्टिव सर्विलेस टीम के नेतृत्व मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत जशपुर के. एस. मण्डावी (8319811991) जिला नोडल अधिकारी का कार्य करेंगे। 

इसी प्रकार एक्टिव सर्विलेस टीम के अन्य सदस्य 
सहायक आयुक्त आदिवासी विकास एसके वाहने (9424181619),
जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास अजय शर्मा (6268725026), 
जिला शिक्षा अधिकारी एन कुजूर (9425555343), 
खाद्य अधिकारी  जी. एस. कंवर (9425201983), 
सीएमओ नगरपालिका जशपुर दिलीप बुनकर (8319613271), 
प्राचार्य संकल्प शिक्षण संस्थान  विनोद गुप्ता (9406059900) 
शामिल है। 

जिनका कार्य जिले में नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण के संदेहास्पद प्रकरणों का चिन्हांकन एवं खोज कर उनका उपचार सुनिश्चित किये जाने हेतु विभिन्न स्तरों पर कार्यरत जिला एवं विकासखंड स्तरीय कोर कमेटी, ग्राम पंचायत सूचना प्रदाता कमेटी, कान्टेक्ट ट्रेसिंग टीम, विकासखंड स्तरीय कम्यूनिटी सर्विलेस टीम, ग्राम पंचायत स्तरीय सक्रिय कम्यूनिटी सर्विलेस टीम के साथ समन्वय स्थापित कर उनको आवश्यक सहयोग प्रदान करते हुए उनका मार्गदर्शन करना एवं उनके कार्यो का मानीटरिंग करना है।

इसी प्रकार सभी विकासख्ंाडो में 8 सदस्यों की विकासखंड स्तरीय कम्यूनिटी सर्विलेस टीम का नेतृत्व अनुविभागीय अधिकारी राजस्व उप जिला नोडल अधिकारी का कार्य करेंगे। एवं कम्यूनिटी सर्विलेस टीम में अन्य सदस्य अनुविभागीय अधिकारी पुलिस, तहसीदार, विकासखंड चिकित्सा अधिकारी, विकास खंड शिक्षा अधिकारी, परियोजना अधिकारी महिला एवं बाल विकास, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, एवं विकासखंड समन्वयक मितानिन कार्यक्रम शामिल है। इनका कार्य विकासखंड में नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण के संदेहास्पद प्रकरणों का चिन्हांकन एवं खोज कर उनका उपचार सुनिश्चित किये जाने हेतु ग्राम स्तर पर कार्यरत टीम के साथ समन्वय स्थापित कर प्रतिदिन निर्धारित प्रारूप में जानकारी प्राप्त करने उसकी संवीक्षा एवं अनुश्रवण का कार्य करेगें। एवं आवश्यकतानुसार सर्विलेंस में पाये गए संदेहास्पद लोगों का पूर्ण संस्था में  होम आईशोलेशन या क्वारेंटाईन का कार्य करना है।

इसी तरह सभी ग्राम स्तर पर 7 सदस्यीय ग्राम पंचायत स्तरीय सक्रिय कम्यूनिटी सर्विलेस टीम का नेतृत्व सरपंच करेगें एवं पंचायत स्तरीय सक्रिय कम्यूनिटी सर्विलेस टीम के अन्य सदस्यों में संबंधित ग्राम में स्थित स्कूलों के शिक्षक, संबंधित ग्राम पंचायत के सचिव/रोजगार सहायक, ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक महिला एवं पुरूष, संबंधित ग्राम पंचायत/पारा के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, संबंधित ग्राम पंचायत/पारा के मितानिन, एवं संबंधित ग्राम पंचायत के ग्राम कोटवार शामिल है।

इनका कार्य नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण के संदेहास्पद प्रकरणों का चिन्हांकन एवं खोज, एवं होम आईशोलेशन या क्वारेंटाईन पर रखे गए चिन्हांकित घरों के समीपस्थ 50 घरों या संस्थाओं में घर-घर भ्रमण कर प्रदत्त निर्धारित पपत्र में मांगी गई जानकारी एकत्र कर उसे विकासखंड स्तरीय टीम या जिम्मेदार अधिकारी को प्रतिदिन उपलब्ध कराना है। साथ ही होम आईशोलेशन या क्वारेंटाईन पर गए व्यक्ति का पूर्ण आईशोलेशन या क्वारेंटाईन सुनिश्चित करना है तथा 14 दिन की आईशोलेशन या क्वारेंटाईन के दौरान उच्च अधिकारियों द्वारा दिये गये निर्देशों एवं कार्य दायित्वों का निर्वहन सुनिश्चित करना है। कलेक्टर श्री क्षीरसागर ने जिले में कोरोना वायरस (कोविड -19) से बचाव एवं उपचार के संबंध में सभी  अधिकारियों एव्ंा कर्मचारियों को इस आशय का आदेश जारी करते हुए इसका कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।



--

Post a comment

0 Comments