... ब्रेकिंग पत्रवार्ता : कैमरा छीनकर धमकाने वाले CEO के खिलाफ पत्रकार लामबंद,निंदा प्रस्ताव पारित,

ब्रेकिंग पत्रवार्ता : कैमरा छीनकर धमकाने वाले CEO के खिलाफ पत्रकार लामबंद,निंदा प्रस्ताव पारित,



पत्थलगांव,टीम पत्रवार्ता,21 नवंबर 2019

जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा मीडियाकर्मी के साथ अभद्र व्यवहार का मामला तूल पकड़ने लगा है। वे एक स्कूल में पेयजल की समस्या के संबंध में पक्ष लेने मुख्य कार्यपालन अधिकारी पत्थलगांव के कार्यालय में गए थे। घटना को लेकर पत्रकारों में रोष है। पत्रकारों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर मामले में कार्रवाई की मांग की है।

उल्लेखनीय है कि जितेन्द्र सोनी बतौर मीडियाकर्मी एक निजी चैनल में कार्यरत हैं। वे ग्राम पंचायत बालाझर की प्राथमिक शाला कूड़ापानी में पेयजल की समस्या के संबंध में पक्ष लेने के लिए जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी बी एल सरल के कार्यालय में गए थे।

यहां सड़क की समस्या के कारण प्राथमिक शाला में हैंडपंप खनन नहीं हो पाने को लेकर उन्होंने सीईओ श्री सरल से सवाल किए। 

जितेन्द्र सोनी ने बताया कि सवाल को लेकर मुख्य कार्यपालन अधिकारी इतने उत्तेजित हुए कि उन्होंने उनका कैमरा छीन लिया और दो तीन चपरासियों को बुलाकर श्री सोनी को बाहर निकालने को कहा।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी के द्वारा एक मीडियाकर्मी के साथ दुर्व्यवहार को लेकर पत्रकारों ने रोष जताया है। इसे लेकर पत्रकार संघ द्वारा बैठक भी बुलाई गई थी जिसमें जितेन्द्र सोनी के साथ हुए इस दुर्व्यवहार की कड़ी निंदा की गई। 

समस्त पत्रकारों का कहना है कि पत्रकार लोकतंत्र के चौथे स्तंभ माने जाते हैं जो अपनी भूमिका से शासन-प्रशासन और समाज को जगाने का कार्य करते हैं। फिर चाहे वह भ्रष्टाचार हो या फिर जनसमस्या निवारण का मामला हो पत्रकारों की भूमिका अत्यधिक महत्वपूर्ण मानी जाती है। 

वर्तमान समय में विपरीत परिस्थितियों के बावजूद पत्रकार अपनी भूमिका का निर्वहन बखूबी कर रहे हैं। परंतु भ्रष्टाचारियों और कतिपय दायित्वों का निर्वहन करने वाले लोगों से इन्हें खतरा बना हुआ है। इसे देखते हुए छग सरकार पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने की तैयारी कर रही है। 

ऐसे में जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के पद पर आसीन बी एल सरल द्वारा मीडियाकर्मी के साथ किया गया यह व्यवहार प्रशासन के रवैये पर सवालिया निशान है। उनका कहना है कि पत्रकारों और उनके सम्मान की सुरक्षा सुनिश्चित करना प्रशासन का दायित्व है ताकि वे निर्भय होकर जन सरोकार से जुड़े मुद्दों को सामने लाने का कार्य कर सकें।

पत्रकारों ने इस संबंध में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व योगेन्द्र श्रीवास को कलेक्टर के नाम ज्ञापन भी सौंपा है। इसमें पत्रकारों ने श्री सोनी के साथ हुए दुर्व्यवहार के मामले की निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई करने की मांग की है। एसडीएम ने मामले में विधिनुसार कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।

‘‘शिकायत मिली है। मामले की पूरी जानकारी मुझे नहीं है। दोनों पक्षों से मामले की जानकारी लेकर आगे की कार्यवाही की जाएगी।‘‘
योगेन्द्र श्रीवास,एसडीएम,पत्थलगांव

Post a Comment

0 Comments