... BREAKING पत्रवार्ता :भीड़ ने किया नंगा,दौड़ा-दौड़ाकर की पिटाई,ग्रामीणों का अमानवीय चेहरा आया सामने,जान बचाकर भागे बदमाश,

BREAKING पत्रवार्ता :भीड़ ने किया नंगा,दौड़ा-दौड़ाकर की पिटाई,ग्रामीणों का अमानवीय चेहरा आया सामने,जान बचाकर भागे बदमाश,


जशपुर,टीम पत्रवार्ता,25 नवंबर 2019

देखें वीडियो

जिले के बगीचा थाना ईलाके में कानून का खौफ न तो ग्रामीणों को है न बदमाशों को।आए दिन ग्रामीण सरेआम कानून अपने हाथ मे लेते नजर आ रहे हैं।इस बार सैकड़ों ग्रामीणों ने दो बदमाशों को इस कदर पीटा कि मानवता भी शर्मसार होती नजर आई।भीड़ ने न केवल नंगा कर दिया बल्कि दौड़ा दौड़ाकर पीटा और हाथ पैर पकड़कर उठाकर गांव के बाहर फेंक दिया।किसी तरह जान बचाकर बदमाश भाग खड़े हुए।


ताजा मामला है बगीचा थाना इलाके के नटकेला से लगे जामपारा का जहां रविवार को दोपहर में ग्रामीणों को भनक लगी कि दो बदमाश बच्चों से पैसा छीनकर भाग रहे हैं।बाद क्या था देखते ही देखते ग्रामीणों का हुजूम इकट्ठा हो गया और धुनाई शुरु हो गई।मानवीय संवेदना को तार तार करते हुए क्रूरता की हद पार करते हुए ग्रामीणों ने जमकर पिटाई की।शिक्षित भी तमाशबीन बने रहे।

बदमाशों की पहचान प्रभाकर यादव डोन्द्राही देवराज यादव के रूप में की गई जो नारायणपुर थाना इलाके में वर्षों से सक्रिय ठगी और चोरी सहित अन्य घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं।

मामला बगीचा थाना क्षेत्र के ग्राम जामपारा की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कल डोंडराही थाना नारायणपुर निवासी प्रभाकर यादव रोज की तरह अपने ठगी के उदेश्य से निकला हुआ था। लेकिन जब रास्ते मे एक गाड़ी बनवाने जा रहे बच्चे से गाड़ी रोककर 600 रुपये छीन कर भागने लगे तो इनकी बदमाशी पकडी गई।

 ग्रामीणों ने देख लिया था और वे भाग रहे थे, पहले कई किलोमीटर तक चूहा, बिल्ली का खेल चला, जिसके बाद बदमाश जंगल में छिप गए। धान ढो रहे ग्रामीणों ने इन्हें पकड लिया और सब तरफ से ग्रामीणों ने घेर कर इतना मारा की दोनों अधमरा हो गए।

 बताया जा रहा है कि नगाडा बजाने वाले डंडे से भी बदमाशों की जमकर पिटाई हुई है। मारने वालों ने हद पार कर दी और कानून अपने हाथ में ले लिया। नियम से ग्रामीणों को इसकी सूचना पुलिस को देनी थी। 

बताया जा रहा है कि यह बदमाश बकरी, बैटरी आदी चोरी की घटना को भी अंजाम देते रहे हैं। यहां तक कि दोनों चोर को बैठाकर कपड़े तक उतरवा दिए। यहीं नहीं मानवता की हद पार कर देने वाले ग्रामीणों ने उनके गाड़ी पर भी तोड़ फोड़ कर दिया। वहीं प्राप्त जानकारी के अनुसार समझदार लोग भी तमाशबीन बने रहे ।

सवाल यह भी की जागरूक,शिक्षित और साक्षी भी वीडियो बनाते रहे जबकि ग्रामीणों को बदमाशों को पुलिस को सौंपना चाहिए था पर ग्रामीण यहां खुद ही निर्णय लेते नजर आए।कुछ दिनों पहले इसी गांव के आसपास नौकरी के नाम पर लाखों की ठगी के आरोप में पूर्व बीडीसी पति को भी बेतरतीब पीटा गया था।

कानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करने वाले ऐसे ग्रामीण और बदमाश दोनों ही घातक नजर आ रहे हैं।अब देखना होगा कि कानून का डंडा किस पर चलता है..?

Post a Comment

0 Comments